भगवद गीता ऑनलाइन सुनिए Bhagavad Geeta online suniye

जून 08, 2013
महाभारत के युद्ध में कुरुक्षेत्र के मैदान में श्री कृष्ण ने अर्जुन को गीता का सन्देश सुनाया था। इसमें एकेश्वरवाद, कर्म योग, ज्ञानयोग, भक्ति योग की बहुत सुन्दर ढंग से चर्चा हुई है। इसमें देह से अतीत आत्मा का निरूपण किया गया है।
Read More Posts


जिस प्रकार एक सामान्य मनुष्य अपने जीवन की समस्याओं में उलझकर घबरा जाता है और उसके पश्चात जीवन के कर्तव्य से पलायन करने का मन बना लेता है उसी प्रकार अर्जुन जो महाभारत का महानायक है अपने सामने आने वाली समस्याओं से भयभीत होकर जीवन और क्षत्रिय धर्म से निराश हो गया था। अर्जुन ने जब देखा कि उससे युद्ध करने के लिए जो लोग उसके सामने खड़े है वो सब उसके परिवार के ही सदस्य है वह किस पर अपना बान चलायें। उसने अपना धनुष रख दिया था।  Read More Posts

ये सब देखकर भगवान श्री कृष्ण ने अर्जुन को जन्म - मरण का रहस्य बताया और बिना फल कि चिंता किए अपने धर्म को निभाने और कर्म करने के लिए प्रेरित किया। इस सब के बाद अर्जुन ने अपना धनुष उठाया और युद्ध लड़ना आरम्भ किया। कुरुक्षेत्र के मैदान में भगवान श्री कृष्ण द्वारा अर्जुन को दिए गए इसी ज्ञान को भगवद गीता में लिखा गया है। अब आप भगवद गीता को ऑनलाइन सुन भी सकते हो। इसके लिए आपको निचे दी गई वेबसाइट पर जाना होगा।

ऑनलाइन भगवद गीता:-

http://gitopanishad.com/audio/hindi-gita/listen-hindi.html

Read More Posts

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »
loading...


Free App to Make Money




Free recharge app for mobile
Click here to download