दूध जरूर पीना चाहिये - Dhud jarur pina chahiye

Of course, should drink milk. दूध जरूर पीना चाहिये - Dhud jarur pina chahiye.

भारतीय लोगों को दूध और दूध से बनी सारी चीज़ें बहुत पसंद है। दूध, दही, आइसक्रीम, दूध से बनी मिठाइयां बहुत पसंद है, और वे हर रोज़ बहुत चाय पीते हैं, इस में भी दूध शामिल है।

वैसे मानव के शिशुओं को दूध की जरूरत पड़ती है, यानि मानव का सब से पहला आहार दूध ही होता है। क्योंकि एक शिशु दूध के अलावा कोई दूसरा भोजन शुरू के दिनों में हज़म नहीं कर सकता है। इस के अलावा दूध एक शिशु को बड़े होने में मदद देता है, उस के बदन को तंदुरूस्ती देता है और मज़बूत बनाता है और कई तरह के विटामीन, प्रोटीन और कैल्शियम के साथ साथ बच्चे को खूबसूरत दिखने में भी मदद देता है।

इतना ही नहीं, मां का दूध बच्चे को खूबसुरत और मजबूत को बनाता ही है, उस के मानसिक उन्नती में भी भारी मददगार साबित होता है। जाहिर है कि दूध बच्चों को पीना ही चाहिये। 


लेकिन बड़ों को भी इस का पूरा फायदा उठाना चाहिये। वयस्कों के शारीरिक और मानसिक उन्नति में भी दूध का बहुत बड़ा हाथ होता है। इसलिये बहुत से देशों में यह प्रोत्साहन किया जा रहा है कि जब भी मौका मिले, सुबह या रात, दूध जरूर पीना चाहिये।

भारत में लोगों को दूध पीने के अलावा इस से बनी कई तरह की चीज़ें जैसे लस्सी, दही, घी, छांछ और पनीर आदि को खाना पीना पसंद है। इन में कई तरह के व्यंजन, रसगुल्ले, गुलाब जामुन, बर्फी आदि कई तरह की मिठाइयां, हलवा, खीर, शरबत आदि भी शामिल हैं।

सचमुच ही दूध का कोई दूसरा विकल्प नहीं है। अगर दूध नहीं होता तो मानव के विकास का क्या होता। इसलिये जब भी मौका मिले दूध पीना न भूलें।

एक टिप्पणी भेजें