सिखने की कोई उम्र नही sikhane ki koi umar nahi

सिखने की कोई उम्र नही
Sikhane ki koi umar nahi
There is no age to learn - in hindi.


सिखने की कोई उम्र नही होती है फिर भी कई लोग कोई भी चीज सिखने में हिचकिचाते है कहते है "भला ये भी कोई उम्र है सीखने की" मैं उन लोगो की धारणा को आज एक उदाहरण देकर गलत साबित करना चाहता हूँ


जरा आप इसे पढ़े :-

एक बार स्वामी रामतीर्थ जापान गए. वहा उनकी भेंट एक वृद्ध से हुई. पता चला की वे 75 वर्ष के है तथा जर्मन भाषा सीख रहे है. स्वामी जी उनके उत्साह को देखकर प्रभावित हुए और बोले :- "बाबा इस उम्र में जर्मन भाषा सीखकर आप क्या करेंगे? "

स्वामी जी के प्रश्न को सुनकर वह मुस्कराये और गम्भीर होकर बोले :- "स्वामी जी! सीखने की कोई उम्र नही होती. मैं प्राणिशास्त्र में परास्नातक हुँ. जर्मन भाषा में इस विषय में कई अच्छी पुस्तके प्रकाशित हुई है. मैं चाहता हुँ की उनका जापानी में अनुवाद करू, ताकि मेरे देशवासी उससे लाभ उठा सके".

उस वुद्ध के उत्साह और देशवासी के प्रति लगाव को देखकर स्वामी रामतीर्थ उसके आगे श्रद्धा से झुक गए और पैर छूते हुए बोले, "मैं समझ गया की अब जापान को आगे बढ़ने से कोई नही रोक सकता".
इससे हमें पता चलता है की सीखने की कोई उम्र नहीं होती है. आप जब चाहे जहा चाहे और जिससे भी चाहे उससे कुछ भी सीख सकते हों. अगर आपको अपने जीवन में सफल होना है तो ना तो अपनी उम्र देखे और ना ही उसकी जो आपको कुछ सीखा रहा है.

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM