25/11/2014

अच्छी नींद और सकारात्मक ऊर्जा Achchhi nind aur sakaratmak urja

loading...

अच्छी नींद और सकारात्मक ऊर्जा Achchhi nind aur sakaratmak urja, Good sleep and positive energy.

अव्यवस्थित दिनचर्या के चलते नींद की कमी का सामना करना पड़ता है। आज काफी लोग ऐसे हैं, जिन्हें पर्याप्त नींद नहीं आती है और इसी वजह से सुबह उठने के बाद भी थकान और आलस्य बना रहता है।


फेंगशुई के अनुसार बेडरूम में पलंग से संबंधित कोई दोष होगा तो हम पर्याप्त नींद नहीं ले पाते हैं। बुरे सपने दिखाई देते हैं, मानसिक तनाव बढ़ता है और नींद की कमी रहती है। यहां जानिए पलंग से जुड़ी फेंगशुई टिप्स, जिनसे कई परेशानियां दूर हो सकती हैं।
पलंग का सिरहाना और बिस्तर कैसा होना चाहिए: फेंगशुई के अनुसार आपके पलंग का सिरहाना और बिस्तर

आरामदायक होना चाहिए। यदि सिरहाना ठोस लकड़ी का होगा तो ज्यादा बेहतर रहता है। पलंग का सिरहाना ठोस लकड़ी का होता है तो यह अधिक सकारात्मक ऊर्जा एकत्र करता है। लकड़ी का सिरहाना ना हो तो पलंग के नीचे कोई भी वस्तु नहीं रखनी चाहिए। ऐसा होने पर नींद ठीक से नहीं आती है और बुरे सपने दिखाई देते हैं। दिनभर के काम के बाद रात को सोते समय आपकी गर्दन और सिर को विशेष आराम की आवश्यकता रहती है। ऐसे में सिरहाना और बिस्तर आरामदायक रहेगा तो नींद अच्छी आती है। 
किसी बीम के नीचे नहीं होना चाहिए पलंग: यदि आपके पलंग के ठीक ऊपर छत पर बीम है तो पलंग ऐसे स्थान से शिफ्ट कर लेना चाहिए। बीम के नीचे सोने पर आपके मस्तिष्क पर भार पड़ता है। नींद ठीक से नहीं आती है और तनाव बढ़ता है। थकान दूर नहीं होती है। 
पलंग की ऊंचाई: इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि आपके पलंग की ऊंचाई ना तो बहुत ज्यादा होना चाहिए और ना ही बहुत कम। फेंगशुई के अनुसार आपके पलंग के नीचे भी ऊर्जा रहती है जो आपके शरीर के चारों ओर संचारित होती रहती है। इस ऊर्जा को ग्रहण करने के लिए पलंग की ऊंचाई व्यस्थित रहनी चाहिए। इस बात का भी ध्यान रखें कि पलंग के नीचे कुछ सामना ना हो, क्योंकि सामान रहेगा तो ऊर्जा का मार्ग अवरूद्ध होगा। इस ऊर्जा के कारण आपको शक्ति प्राप्त होती है। सुबह जब आप सोकर उठते हैं तो एकदम तरोताजा महसूस करते हैं। दिनभर एनर्जी बनी रहती है।
बेडरूम में पानी से संबंधित फोटो न लगाएं: फेंगशुई के अनुसार अपने रूम में पानी से संबंधित फोटो भी नहीं लगानी चाहिए। ऐसा करने पर धन हानि होने की संभावनाएं बढ़ती हैं। 
कमरे में पलंग कहां रखें: कभी भी कमरे के दरवाजे के ठीक सामने पलंग नहीं रखना चाहिए। यदि दरवाजे के ठीक सामने पलंग रहता है तो इससे दोष उत्पन्न होते हैं। मानसिक तनाव बढ़ता है और इसी वजह से नींद ठीक से नहीं आती है। पर्याप्त नींद के अभाव में शारीरिक कमजोरी बढ़ती है। यदि पलंग के सामने दरवाजा हो तो वहां परदा डालकर रखना चाहिए।

सिरहाने के पीछे दीवार होना शुभ: हमेशा ध्यान रखें कि आपके पलंग के सिरहाने के ठीक पीछे दीवार होना चाहिए। ऐसा होने पर आपको अधिक ऊर्जा प्राप्त होती है, जबकि सिरहाने के पीछे यदि खिड़की होगी या खुला हिस्सा होगा तो आपके आसपास की ऊर्जा बाहर चली जाएगी। ऐसे में पर्याप्त नींद के बाद भी आपको उचित ऊर्जा प्राप्त नहीं हो पाएगी।
पलंग के आसपास न हो ऐसी चीजें: आजकल बेडरूम में टीवी, फ्रिज, कम्प्यूटर आदि इलेक्ट्रानिक आइटम्स रखने का चलन बढ़ गया है। इस संबंध में ध्यान रखें कि ये चीजें आपके पलंग से दूर ही रहना चाहिए। ये चीजें पलंग के एकदम पास होने पर फेंगशुई ऊर्जा का मार्ग अवरूद्ध करती हैं। 
पलंग के ठीक सामने न हो दर्पण: आपके पलंग के ठीक सामने ऐसा दर्पण नहीं होना चाहिए, जिसमें सोते समय आपका प्रतिबिम्ब दिखाई देता हो। यह पति-पत्नी के रिश्तों पर बुरा असर डालता है। यदि पलंग के सामने ऐसा कांच लगा हो तो उस पर कपड़ा डालकर सोना चाहिए। 

अच्छी नींद और सकारात्मक ऊर्जा Achchhi nind aur sakaratmak urja Rating: 4.5 Diposkan Oleh: Satish Kumar

0 comments:

एक टिप्पणी भेजें