जानिये यज्ञ करने के फायदे Janiye yagya karne ke fayde

जानिये यज्ञ करने के फायदे Janiye yagya karne ke fayde, Learn the advantages of yagna.

हम अपनी सत्य सनातन संस्कृति को आधार माने तो यज्ञ से सम्पूर्ण शुभकामनाये पूर्ण होती है ! सतपथ ब्राम्हण में कहा गया है कि मानव जीवन में जितने भी शुभकर्म किये जाये उनमे यज्ञ सर्वश्रेष्ठ कर्म है !

स्वर्ग की कामना हो, सुख समृद्धि की इच्छा हो, आनंद उत्साह की जरूरत हो, शांति और संतोष की प्राप्ति हेतु यज्ञ ही परम साधन है ! मानव जीवन के सम्पूर्ण अभावो को यज्ञ का पभाव दूर करता है !
वाल्मीकि रामायण में प्रसंग आता है कि सन्तान के अभाव में राजा दशरथ के पुत्रेष्टि यज्ञ हेतु श्रृंग ऋषि को आमंत्रित किया था ! श्रृंग ऋषि ने राजा दशरथ को आश्वस्त करते हुए कहा था -

इष्टि तेअहं करिष्यामि पुत्रियां पुत्रकारणात !
अथर्वशिरसि प्रोक्तैर्मन्त्रै : सिध्दां विधनत : !! (बा. का. 14 /2 )
हे राजन! तुम्हारे यहा संतानोत्पत्ति के लिए अथर्ववेद के मंत्रो द्वारा मै विधि पूर्वक पुत्रेष्टि यज्ञ कराउगा, जिसे मै अच्छी प्रकार जानता हु ! यज्ञ फल तथा ऋषि के आशीर्वाद से राजा दशरथ के घर स्वयं भगवान श्रीराम सहित चार पुत्रो का जन्म हुआ ! स्वर्ग समान अयोध्या नगरी में चहुओर मंगलगान गाए गये ! यज्ञ जितने प्राचीनकाल में उपयोग और कल्याणकारी थे, अधुना उससे ज्यादा प्रासंगिक और लाभकारी है !

एक टिप्पणी भेजें