Header Ads

Breaking News

Ads

केले के पत्ते पर खाएं भोजन Kele ke patte par khaen bhojan

केले के पत्ते पर खाएं भोजन Kele ke patte par khaen bhojan, Eat food on banana leaf.
केला कई गुणों से भरपूर फल है। इसके पूरे पौधे में कई औषधीय गुणों से भरपूर हैं। इसलिए हमारे धर्म ग्रंथों में केले को बहुत पवित्र वृक्ष माना गया है।

यही कारण है कि इसकी पूजा की जाती है। कुछ विशेष पूजन में इसका मंडप भी बनाया जाता है। यह वृक्ष विष्णु भगवान को बहुत प्रिय माना जाता है। इसलिए जिन लोगों के विवाह में विलंब होता है, उन्हें केले के पेड़ की पूजा करने को कहा जाता है। वास्तु के अनुसार केले के पेड़ को घर के सामने और बगीचे में लगाना अच्छा माना जाता है। भारत के कुछ हिस्सों विशेषकर दक्षिण भारत में इसकी पवित्रता के कारण इसका उपयोग भोजन करने के लिए भी किया जाता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि इसका वैज्ञानिक क्या है, अगर नहीं तो आज हम आपको बताते हैं कि केले के पत्ते पर खाना खाने से कौन से फायदे होते हैं:
  • केले के पत्ते से मिलने वाले फाइबर चटाई, दरियां, मोटे पेपर और पेपर पल्प बनाने के काम आता है। केले के पत्ते पर गर्म खाना परोसने से इस पत्ते में मौजूद पोषक तत्व भी खाने में मिल जाते हैं, जो कि स्वास्थ्य के लिए अच्छा है।
  • रोजाना केले के पत्ते पर खाना खाने से बाल हमेशा काले और चमकदार बने रहते हैं।
  • केले के पत्तों पर खाना खाने से दाद-खाज और फोड़े- फुंसियों जैसी समस्याएं नहीं होती हैं।
  • इसके पत्तों में काफी मात्रा में एपिगालोकेटचीन गलेट और इजीसीजी जैसे पॉलीफिनोल्स होते हैं। ये वे एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो कि पत्तेदार भोजन में पाए जाते हैं। केले के पत्ते पर खाना खाने पर ये एंटीऑक्सीडेंट सीधे शरीर को मिलते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट त्वचा को लंबी उम्र तक जवान बनाए रखते हैं।
  • स्किन पर फोड़े, फुंसी के निशान या जलने पर केले के पत्ते पर नारियल का तेल डालकर लपेटने से त्वचा से संबंधित समस्याओं से जल्द निजात मिलती है।
  • शरीर में कहीं भी जल जाने पर केले के पत्ते पर अदरक का तेल छिड़कर ऊपर से नीचे तक लपेटने से गर्मी और जलन से छुटकारा मिलता है।
  • केले के पत्ते पर अदरक का तेल लगाकर ऊपर से नीचे तक नवजात बच्चे को इसमें लपेटकर खुले में सूर्य की किरणों के सामने रखना बच्चे की त्वचा के लिए अच्छा रहता है। इससे उसके शरीर को प्रचूर मात्रा में विटामिन - डी मिलता है।
  • केले के पत्ते की यह खासियत होती है कि वह खाने के पौषक तत्व बरकरार रखता है। यदि भोजन को केले के पत्ते में लपेटा जाता है तो यह खराब नहीं होता है।