फ़ोन भीग जाए तो क्या करें Phone bhig jaye to kya karen

फ़ोन भीग जाए तो क्या करें Phone bhig jaye to kya karen, What to do if the phone is drenched.

अगर पानी गिरने की वजह से आपका फोन भीग गया है तो परेशान होना लाजमी है, लेकिन कुछ आसान टिप्स का इस्तेमाल करके आप अपने फोन को सुरक्षित ऑन कर सकते हैं।


हम आपको बताने जा रहे है पानी में गिरे हुए फोन को सुरक्षित तरीके से सुखाने और उसे कैसे ऑन किया जाए इसकी टिप्स। साथ ही, फोन के भीग जाने पर क्या नहीं करना चाहिए। 

क्या करें जब भीग जाए फोन:
  • अगर फोन पानी में भीग गया है तो सबसे पहले ऑफ कर दें। फोन के ऑन रहते हुए अगर पानी अंदर के किसी हिस्से में चला गया तो शॉट सर्किट भी हो सकता है। ध्यान रहे अगर फोन पानी में गिर गया है या बारिश में भीग गया है तो ये जांचने की कोशिश ना करें की उसका कोई बटन चल रहा है या नहीं। सबसे पहले उसे ऑफ करना ही समझदारी होगी।
  • भीगे हुए फोन को ऑफ करने के बाद उसकी सभी एक्सेसरीज को अलग कर दें। इनमें बैटरी, सिम कार्ड, मेमोरी कार्ड, फोन से अटैच की हुई कॉर्ड। इन सभी एक्सेसरीज को अलग करने से शॉर्ट सर्किट का खतरा कम हो जाएगा।
  • अगर आपके फोन में नॉन-रिमूवेबल बैटरी है जैसे नोकिया लुमिया या आईफोन में होती है तो बैटरी निकाल कर ऑफ करने का विकल्प खत्म हो जाएगा। ऐसे में पावर बटन से बंद करना सबसे ज्यादा जरूरी है। नॉन रिमूवेबल बैटरी के कारण शॉर्ट सर्किट हो सकता है।
  • फोन की एक्सेसरीज को अलग करने के बाद फोन के सभी पोर्ट्स को सुखाना जरूरी है। इसके लिए पेपर नैप्किन का इस्तेमाल करना सबसे सहूलियत भरा होगा। इसके अलावा, फोन को पोछने के लिए नरम तौलिए का भी इस्तेमाल किया जा सकता है।
  • तौलिए से पोछने के बाद सबसे जरूरी काम होगा फोन के इंटरनल पार्ट्स को सुखाना। इसके लिए फोन को सूखे चावल में दबाकर एक बर्तन में रख दीजिए। चावल बड़ी तेजी से नमी सोखता है। ऐसे में फोन के इंटरनल पार्ट्स सूख जाएंगे।
  • चावल के बर्तन में अगर फोन को ना रखना चाहें तो सिलिका जेल पैक (silica gel pack) का इस्तेमाल भी किया जा सकता है। ये जेल पैक्स जूतों के डब्बों में रखे जाते हैं। इनमें चावल से ज्यादा तेजी से नमी सोखने की ताकत होती है। अपने फोन को कम से कम 24 घंटों तक सिलिका पैक या फिर चावल के बर्तन में रखे रहने दें। जब तक ये पूरी तरह सूख ना जाए इसे ऑन करने के बारे में मत सोचिए। फोन के साथ-साथ बैटरी और बाकी एक्सेसरीज को भी चावल में सुखाया जा सकता है। जब तक फोन पूरी तरह से ना सूखे इसे ऑन ना करें। 
अगर आपका फोन पानी में भीग गया है तो ये काम बिलकुल ना करें:
  • फोन को ड्रायर से सुखाने की कोशिश ना करें। ड्रायर बहुत ज्यादा गर्म हवा फेंकता है ऐसे में फोन के सर्किट्स पिघल सकते हैं।
  • अगर फोन भीग गया है तो उसे तुरंत ऑफ करें। किसी और बटन का इस्तेमाल करने से शॉर्ट सर्किट का खतरा काफी बढ़ जाता है।
  • हेडफोन जैक और फोन के यूएसबी पोर्ट का इस्तेमाल तब तक ना करें जब तक फोन पूरी तरह से सूख ना गया हो। इनका इस्तेमल करने से नमी का फोन के इंटरनल पार्ट्स में पहुंचने का खतरा बढ़ जाता है।

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM