रटकर पढ़ने से दिमाग पर बुरा असर Ratkar padhne se dimag par bura asar

नवंबर 25, 2014
बार-बार रटकर पढ़ने की आदत बच्चों के लिए दिमाग से जुड़े बड़े खतरे की वजह हो सकती है। यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया के शोधकर्ताओं की मानें तो रटकर पढ़ने वाले बच्चों को आगे चलकर भूलने की समस्या अधिक होती है।


बार-बार वही बात अधिक भटकाती है ध्यान: शोधकर्ताओं ने माना कि किसी बात को बार-बार दोहराना हमारे दिमाग की याद रखने की क्षमता को कम कर सकता है। शोध के दौरान प्रतिभागियों को एक ही तरह की तस्वीरें कई बार दिखाई गईं और बाद में उनसे इन तस्वीरों के संबंध में कई सवाल किए गए। शोधकर्ताओं ने पाया कि बार-बार एक ही तस्वीरें देखने के बाद प्रतिभागियों में इन तस्वीरों में दिकने वाली चीजें बारीकी से याद रखने की क्षमता घटी है।

रटने की हैं अधिक सीमाएं: शोधकर्ता माइकल यस्सा के अनुसार, रटने की अपनी सीमाएं हैं। एक ही चीज के बार-बार दोहराव की अपेक्षा उसे समझने या उस पर गौर करने से उससे जुड़ी बारीकियां देर तक याद करती हैं। इससे चीजें तुरंत तो याद हो जाती हैं पर उन्हें लंबे समय तक याद नहीं रखा जा सकता है।

Share this

Related Posts

Previous
Next Post »
loading...


Free App to Make Money




Free recharge app for mobile
Click here to download