Header Ads

Breaking News

Ads

सरसों के तेल के फायदे Sarson ke tel ke fayde

सरसों के तेल के फायदे Sarson ke tel ke fayde, The advantages of mustard oil.

सरसों के तेल को शरीर के लिए बहुत उपयोगी व रामबाण माना जाता हैं।


इसके सही उपयोग से आपको दवाई की भी जरूरत नहीं होगी, क्योंकि सरसों के तेल में दर्दनाशक गुण हैं- जैसे कान का दर्द सताए तो दो बूंद गुनगुना सरसों का तेल कान में टपकाएं, चाहे तो इसमें दो चार कलियां लहसुन की भी मिला सकते हैं।

यदि गठिया से परेशान हों तो सरसों के तेल में कपूर मिलाकर मालिश करने से दर्द में राहत मिलती है। यदि कमर दर्द हो तो सरसों के तेल में थोड़ी हींग, अजवाइन और लहसुन मिलाकर गर्म कर लें और उसे कमर पर लगाएं, पिंडलियों का दर्द हो तो सरसों के तेल को गुनगुना करके मालिश करना चाहिए। सरसों का तेल दिल को चुस्त-दुरुस्त रखता है। आज हम आपको स्किन,बाल और हेल्थ से जुड़े फायदों के बारे में बता रहे हैं: 
  1. अस्थमा को कंट्रोल करने के लिए- सरसों के बीज में सेलेनियम एंड मैग्नीशियम ज़्यादा मात्रा में पाया जाता है। इन दोनों में एंटी-इन्फ्लामेटरी होता है। सरसों के तेल  को रोज खाने से अस्थमा,सर्दी और ब्रेस्ट में होने वाली दिक्कतों में लाभ मिलता है। 
  2. वजन कम करना: सरसों के बीज में बी-कॉम्पलेक्स विटामिन जैसे-फोलेट, थियामाइन, नियासिन, रिबोफ्लाविन होता है। सरसों का तेल हमारी बॉडी के मेटाबॉल्जिम को बढ़ाता है,जिससे वजन कम करने में आसानी होती है।
  3. एंटी-एजिंग: सरसों में कैरोटिन्स, जियक्साथिंस एंड ल्यूटिन,विटामिन ए,सी और के की मात्रा भरपूर होती है। इन सभी विटामिन होने के कारण यह एंटीऑक्सीडेंट भी है जो बढ़ती एज में होने वाली निशान,झुर्रियां और रिंकल को दूर करता है।
  4. भूख को बढ़ाना: एक अच्छी हेल्थ की पहचान तभी होती है जब आपको खुलकर भूख लगती है। इसके लिए आपका स्वास्थ्य भी अच्छा होना चाहिए। इसके लिए सरसों का तेल बेस्ट है। सरसों का तेल पेट में गैस्ट्रिक जूस की तरह हमारे ऐपिटाइजर के रूप में काम करता है,जिससे भूख बढ़ने लगती है। इसलिए आज से ही खाने में सरसों के तेल का इस्तेमाल करना शुरू करें। खूब खाएं और हेल्दी रहें। 
  5. कैंसर की रोकथाम के लिए: सरसों के तेल में ग्लुकोजिलोलेट होता है, जो कैंसर विरोधी गुण होने की वजह से कैंसर ट्यूमर(गांठ) होने से बचाता है। सरसों में लाभकारी गुण होने की वजह से ग्लुकोजिलोलेट और कोरोरेकटल कैंसर से बचाने का काम करता है। 
  6. टैन स्किन और डार्क सपॉट को कम करना: सरसों के तेल से गर्मियों में होने वाली स्किन टैन और आंखों पर पड़ने वाले डार्क सर्कल को कम करने में मदद करता है।इसके लिए आप सरसों के तेल में बेसन,दही और कुछ बूंदे नींबू की मिलाकर चेहरे पर लगाएं। फेस मास्क को 10 से 15 मिनट चेहरे पर लगा कर रखे,उसके बाद ठंडे पानी से चेहरे को धूल लें। इस मास्क को हफ्ते में दो या तीन बार लगाएं। 
  7. स्किन का लाइट करना: सरसों के तेल में नारियल के तेल को मिलाकर फेस की 5 से 6 मिनट सर्कल में चहेरे की मसाज करें। मसाज करने के बाद वाइप से या गीली रूई से चेहरे को साफ करें। इस मसाज से चेहरे का ब्लड़ सर्कुलेशन बढ़ता है और स्किन का कलर भी लाइट होता है। 
  8. प्राकृतिक सनस्क्रीन के रूप में: सरसों के तेल में विटामिन की मात्रा ज़्यादा होने की वजह से चेहरे के लिए प्राकृतिक सनस्क्रीन का काम करता है। हल्का तेल और विटामिन ई होने की वजह से बाहरी धूप और अल्ट्रावॉयलेट रेज और प्रदूषण से बचाता है। विटामिन ई एजिंग और झुर्रियों को कम करता है। 
  9. रैशेज (फुन्सी) और इन्फेक्शन को कम करना: सरसों का तेल एंटी-बैक्टीरिया और एंटी-फंगल होने की वजह से रैशेज और स्किन से जुड़ी समस्याओं के लिए काफी फायदेमंद होता है। अगर आप रोज खाने या चहेरे पर सरसों का तेल यूज करते है तो यह स्किन में होने वाली ड्रायनेस,डलनेस और जलन को खत्म करता है। सरसों के तेल से बॉडी मसाज करने से चमक और स्किन साफ हो जाती है। बॉडी में मसाज करने से ब्लड सर्कुलेशन और इन्फेक्शन के लिेए भी काफी फायदेमंद है। 
  10. बालों की ग्रोथ के लिए: सरसों के तेल से सिर में मसाज करने से बालों की ग्रोथ तो होती है साथ ही ब्लड सर्कुलेशन भी बढ़ता है। सरसों के तेल में विटामिन और मिनरल्स होते है, इससे बालों को पोषण मिलता है। सरसों के तेल में बीटा-कैरोटिन की मात्रा ज्यादा होती है जो विटामिन में कन्वर्ट होता है और बालों की ग्रोथ को बढ़ाता है। सरसों के तेल में आयरन,फैटी एसिड,कैल्सियम और मैग्नीशियम जैसी गुण होते है जो बालों के लिए फायदेमंद हैं। 
  11. बालों के नेचुरल कलर के लिए: जिन लोगों के बाल भूरे रंग के होते है, उन्हें सरसों का तेल लगाना चाहिए। इससे बालों का रंग काला हो जाएगा। रात में सोने से पहले हर रोज सरसों का तेल लगाने से कुछ दिन में आपके बाल काला होने लगेंगे।
  12. झड़ते बाल और स्कैल्प के लिए: सरसों के तेल में काफी विटामिन होते है जो आपके झड़ते बाल,गंजेपन जैसी समस्याओं के साथ दोमुंहे और रूखे बालों के लिए भी फायदेमंद है। स्कैल्प में इन्फेक्शन होने पर फंगल ग्रोथ को रोकता है और हाइड्रेटिड रखता है। सरसों के तेल को लगाने का सबसे अच्छा तरीका है कि सरसों ,बादाम नारियल,ऑलिव और बादाम के तेल को साथ मिलाकर सिर में 15 से 20 मिनट तक हल्के हाथों से मसाज करें। उसके बाद 2 या 3 घंटे बाद सिर को धो दें। इससे आपके बाल हेल्दी,लंबे और मुलायम रहेंगे। 
  13. सर्दी और खांसी के लिए: यह उन लोगों के लिए फायदेमंद है जिन्हें अक्सर खांसी या गले में बलगम की शिकायत रहती है। इसके लिए आप एक चम्मच सरसों के तेल में कपूर मिक्स करके छाती पर लगाएं। साथ ही, जल्दी आराम के लिए तेल की स्टीम ले सकते है। इसके लिए थोड़ी मात्रा में सरसों का तेल और उसमें जीरा डालकर उबालें और उससे स्टीम लें। इस  स्ट्रांग अरोमा सरसों के तेल से आपकी श्वास नली खुल जाएंगी और खासी या कोल्ड से बनने वाली बलगम को खत्म कर देगा। 
  14. मलेरिया से बचने के लिए: मच्छरों से बचने के लिए रात में सोने से पहले सरसों का तेल शरीर पर लगाएं। इससे मच्छर नहीं काटेंगे,खासकर मलेरिया होने का खतरा  नहीं रहेगा। 
  15. अन्य फायदा: सरसों का तेल हमारे बॉडी के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसे खाने से शरीर मजबूत होता है और इम्यूनिटी को स्ट्रांग करता है। सरसों का तेल बड़ों के साथ-साथ छोटे बच्चों के लिए काफी फायदेमंद होता है। बच्चों की मालिश करने से बच्चे का वजन,लंबाई और शरीर मजबूत बनता है।