अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो Are dwarpalo Kanhaiya se kah do

अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो Are dwarpalo Kanhaiya se kah do, Hey gatekeepers tell Kanhaiya

देखो देखो ये गरीबी ये गरीबी का हाल, कृष्ण के द्वार पे विश्वास ले के आया हूँ
मेरे बचपन का यार है मेरा श्याम, यही सोच कर में आस कर के आया हूँ


अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो
अरे द्वारपालों उस कन्हैया से कह दो
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है

हाँ, भटकते भटकते ना जाने कहाँ से
भटकते भटकते ना जाने कहाँ से
तुम्हारे महल के करीब आगया है
तुम्हारे महल के करीब आगया है

हे, अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है

ना सर पे है पगड़ी ना तन पे है जामा
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा,हाँ हाँ हाँ
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा,हाँ हाँ हाँ
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा

ना सर पे है पगड़ी ना तन पे है जामा
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा
हो ओ ओ ओ ओ
ना सर पे है पगड़ी ना तन पे है जामा
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा, हो हो हो
बता दो कन्हैया को नाम है सुदामा

एक बार मोहन से जा कर के कह दो
तुम एक बार मोहन से जा कर के कह दो
के मिलने सखा बदनसीब आ गया है
के मिलने सखा बदनसीब आ गया है

हाँ, अरे द्वारपालों कन्हैया से कह दो
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है
के दर पे सुदामा गरीब आ गया है

सुनते ही दौड़े चले आये मोहन
लगाया गले से सुदामा को मोहन
हाँ लगाया गले से सुदामा को मोहन
लगाया गले से सुदामा को मोहन
ओ सुनते ही दौड़े चले आये मोहन
लगाया गले से सुदामा को मोहन

ओ सुनते ही दौड़े चले आये मोहन
लगाया गले से सुदामा को मोहन, हाँ हाँ हाँ
लगाया गले से सुदामा को मोहन

हुआ रुक्मिणी को बहुत ही अचम्भा
हुआ रुक्मिणी को बहुत ही अचम्भा
ये मेहमान कैसा अजीब आ गया है
ये मेहमान कैसा अजीब आ गया है

हाँ, हुआ रुक्मिणी को बहुत ही अचम्भा
ये मेहमान कैसा अजीब आ गया है
ये मेहमान कैसा अजीब आ गया है

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM