Click here to download

Click here to download
loading...

चक्रवर्ती सम्राट अशोक : जीवन परिचय Chakravarti samrat Ashok

चक्रवर्ती सम्राट अशोक : जीवन परिचय Chakravarti samrat Ashok - Jivan prichay, Chakravarti Emperor Ashoka: biography.

भारत के इतिहास मैं अशोक एक चक्रवर्ती सम्राट था । अशोक के राज्य का विस्तार बहुत विशाल था उन्होंने एक विशाल भारत की नीव डाली जो अफगानिस्तान से लेकर बंगाल तक तथा हिन्दुकुश की श्रेणियों से मैसूर तक था । अशोक का जन्म ३०४ ईसा पूर्व का था । अशोक सम्राट बिन्दुसार और रानी धर्मा का पुत्र था।


राजगद्दी और विस्तारवादी निति
भाईयो के साथ गृह-युध्द के बाद २७२ ईसा पूर्व मै सत्ता मिली । सत्ता के अधिग्रहण के बाद दादा
सम्राट चन्द्रगुप्त और पिता सम्राट बिन्दुसार नितीयो को अपनाते होए राज्य का विस्तार बहुत तेजी गति से की । जो केवल ८ वर्षो मैं कश्मीर , कलिंग और महत्तवपूर्ण राज्यों को जीतकर विशाल राज्य की स्थापना की जो उस समय के सभी छोटे राज्यों को मिलकर एक भारत की पहचान बनाई । सम्राट अशोक को अपने विस्तृत साम्राज्य से बेहतर कुशल प्रशासन तथा शांति के लिए जाना जाता था

कलिंग का युद्ध

कलिंग का युद्ध एक भरी नरसंहार था । तेरहवें सिलालेख अनुसार कलिंग के युध्द मैं एक लाख पचास हज़ार लोग बंदी बनाकर निर्वासित कर दिया गये, एक लाख लोगो की हत्या कर दी गयी । सम्राट अशोक ने भारी नरसंहार को अपने आखो से देखा । इससे द्रवित होकर अशोक ने शांति , सामाजिक ,प्रगति और धार्मिक प्रचार किया ।

बौध्द धर्म का अनुसरण और प्रचार
कलिंग के युध्द ने अशोक के ह्रदय में महान परिवर्तन कर दिया । उसका ह्रदय मानवता के प्रति दया और करुणा से भरा गया उसने युध्द क्रिया को सदा के लिए बंद कर देने की प्रतिज्ञा की । यहाँ से आध्यात्मिक और धर्मं विजय का युग शुरू हुआ । अशोक ने बौध धर्मं स्वीकार किया और इसके प्रसार के लिए उसने देश-विदेश मैं अपने अनुय़ाय़ी को भेजा गया यह तक की उन्होंने अपने पुत्र और पुत्री को श्रीलंका मैं बौध्द धर्म के प्रसार के लिए भेजा था । राज्य की ताकत का उसने जनकल्याण लगा दिया और अशोक ने अपने कार्यकाल मैं अनेक सिलालेखा खुदवाए, अनेक स्तुपों, स्तंभों का निर्माण करवाया जिनमे धरमौपदेश का सन्देश दिया । जो आज भी कई देश-विदेशो मैं इसके लेखा मिलते है।

अशोक की तुलना कई विद्वानों ने विश्व इतिहास की विभूतियाँ कांस्टेटाइन, एटोनियास, अकबर, सेंटपाल और नेपोलियन सीज़र के साथ की है । अशोक ने अहिंसा , शांति तथा लोक कल्याणकारी नीतियों के विश्वविख्यात तथा अतुलनीय सम्राट है ।
एच.जी वेल्स के मतानुसार अशोक का चरित्र
"इतिहास के स्तंम्भों को भरने वाले राजाओ, सम्राटो, संत-महात्माओ आदि के बीच प्रकाशमान है और आकाश मै अच्छाई के लिए जगमगाते रहेंगे "
Previous
Next Post »
loading...


Free App to Make Money




Free recharge app for mobile
Click here to download