loading...

1
इंटरनेट इन इंडिया 2014 रिपोर्ट के मुताबिक दिसंबर 2014 तक  भारत अमेरिका को पीछे छोड़ते हुए इंटरनेट यूजर्स का दूसरा सबसे बड़ा देश बन जाएगा। 32 प्रतिशत वृद्धि के साथ इस साल के अंत तक भारत में इंटरनेट यूजर्स की संख्या 302 मिलियन तक पहुंच जाएगी। मनोरंजन प्लेटफॉर्म की छवि से आगे बढ़कर इंटरनेट अब एक सशक्त इंडस्ट्री का रूप ले चुका है।

इसका बढ़ता हुआ बाजार आय का महत्वपूर्ण जरिया बन रहा है। फुल टाइम व पार्ट टाइम जॉब ऑप्शंस के साथ अब इंटरनेट स्टूडेंट्स के लिए पैसा कमाने का बेहतरीन संसाधन है। 

Read More  

नीचे दिए गए विकल्पों की मदद से ऑनलाइन काम करते हुए आप अपनी पढ़ाई का खर्च उठा सकते हैं, भविष्य में खुद का बिजनेस स्थापित करने के लिए पूंजी जुटा सकते हैं या इनमें से किसी एक ऑप्शन को अपनाकर करियर भी बना सकते हैं। आइए आज जानते हैं ऐसे ही कुछ तरीकों के बारे में: 
  1. मेक एंड सेल एप्स: वर्तमान में गूगल के एंड्रॉइड मार्केट में आईफोन के लिए तीस लाख से ज्यादा एप हैं। ऐसे में स्मार्टफोन एप डेवलपमेंट बेहतरीन इंटरनेट जॉब बनता जा रहा है। आप एप तैयार करना ऑनलाइन भी सीख सकते हैं। इसके लिए कई ट्यूटोरियल इंटरनेट पर नि:शुल्क उपलब्ध हैं। एप बनाने से ज्यादा मुश्किल काम है उसका आइडिया खोजना। एप बनाने के बाद उसे संबंधित एप स्टोर पर सबमिट कर, कीमत निर्धारित करनी होगी। उपयुक्त शुल्क की कटौती के बाद हर माह अच्छी आय में यह विकल्प मदद करेगा।  
  2. ऑनलाइन फोटो: स्टॉक फोटोग्राफी की कई वेबसाइट्स जैसे फोटोलिया, ड्रीम्सटाइम, शटर स्टॉक, शटर पॉइंट और आईस्टॉक फोटो मेंबर्स के द्वारा सबमिट किए गए फोटो भी काम में लेती हैं। साइट की पॉलिसी के आधार पर हरेक बिक्री पर 15 से 85 प्रतिशत रॉयल्टी दी जाती है। फोटो की क्वालिटी जितनी बेहतर होगी उतनी ही बिक्री बढ़ेगी। जो भी फोटो आप अपलोड करना चाहते हैं पहले उसका वेबसाइट द्वारा स्वीकृत होना जरूरी है। इसके लिए नियम-कायदे काफी सख्त हैं।
  3. अगर आप लेखक हैं तो: लिखने में रुझान है और किताब छपवाना चाहते हैं, तो अमेजन की नि:शुल्क सेवा किंडल डायरेक्ट पब्लिशिंग इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके जरिए आप किंडल (इलेक्ट्रॉनिक) बुकस्टोर पर अपनी किताब छपवा सकते हैं और बिक्री से रॉयल्टी हासिल कर सकते हैं। अगर चुनिंदा देशों में किताब बिकती है तो 70 प्रतिशत रॉयल्टी मिलती है, वहीं हरेक देश में किताब की बिक्री होने पर 35 प्रतिशत रॉयल्टी प्राप्त होती है। 
  4. एफिलिएट/रिसेलर: बिक्री में अगर रुचि है तो एफिलिएट/रिसेलर बनना एक बेहतरीन विकल्प है। एफिलिएट वह व्यक्ति होता है जिसे हरेक प्रॉडक्ट के प्रमोशन व बिक्री पर पैसा मिलता है। वह यह काम खुद की वेबसाइट या ईबे जैसे अन्य प्लेटफॉर्म के जरिए कर सकता है। इसके लिए जरूरी नहीं है कि आप उस प्रॉडक्ट के मालिक हों। इस काम के लिए आपको किसी कंपनी के साथ एफिलिटेड प्रोग्राम के लिए साइन अप करना होगा और उसके प्रॉडक्ट्स को अपने रेफरल लिंक्स के जरिए बेचना होगा। सीजे एफिलिएट या क्लिक बैंक जैसी फर्म्स के जरिए आप प्रॉडक्ट बेच सकते हैं।  
  5. डोमेन खरीदना-बेच: आप रजिस्ट्रेशन प्राइस या उससे भी कम कीमत में संबंधित वेबसाइट से डोमेन नेम खरीद कर मुनाफे के साथ उसे बेच सकते हैं। हालांकि इसके लिए पहले www.afternic.com, www.ebay.com या अन्य डोमेन ऑक्शन वेबसाइट पर रिसर्च करें ताकि आपको प्रचलित नामों का अंदाज लग पाए। साथ ही समाप्त हो चुकी डोमेन नेम सूची देखें, जिसमें कई एक्सपायर्ड नाम शामिल होते हैं, जो फिर से पूल में लौट सकते हैं। 
  6. ऑनलाइन मार्केटिंग: वेबसाइट बनने के बाद सर्च इंजन मार्केटिंग का काम एसईओ/एसईएम एक्सपर्ट करते हैं। इसमें आर्टिकल मार्केटिंग, प्रेस रिलीज तैयार करना, फोरम पोस्टिंग, ब्लॉग पोस्टिंग, साइट को डायरेक्टरीज व सर्च इंजन के लिए सबमिट करना, सोशल बुकमार्किंग जैसे काम शामिल हैं। ज्यादातर कंपनियां सर्च इंजन मार्केटिंग के लिए बाहरी विशेषज्ञों की सेवाएं लेती हैं।
  7. फॉरेन/ स्टॉक एक्सचेंज: हालांकि यह थोड़ा जोखिम भरा है, लेकिन छोटी शुरुआत और लगातार रिसर्च से आप अपने अनुभव को मजबूत बना सकते हैं। इसके बाद आप विदेशी मुद्रा या स्टॉक विनिमय के जरिए पैसा कमा सकते हैं। सफल ट्रेडर इस बात का अंदाजा बखूबी लगा पाते हैं कि कौनसा स्टॉक बढ़ने या गिरने वाला है। 
  8. डिजाइनिंग: आप अपने डिजाइंस को कैफेप्रेस जैसी वेबसाइट पर अपलोड कर सकते हैं। डिजाइनों का ऑर्डर मिलने पर कंपनी उन्हें प्रॉडक्ट पर छपवा कर उपलब्ध करवाती है। इसमें टीशर्ट, बैग, किताबें, पोस्टर, कैलेंडर, ग्रीटिंग कार्ड की डिजाइनिंग शामिल होती है। हरेक बिक्री के लिए आपको कमिशन मिलता है। लुलु और जैजल कुछ अन्य वेबसाइट्स हैं, जिन पर आप डिजाइन अपलोड कर सकते हैं।
  9. वर्चुअल असिस्टेंट: वर्चुअल असिस्टेंट के रूप में आपको वे सभी एडमिनिस्ट्रेटिव काम करने होंगे, जो पारंपरिक सेक्रेटरी या असिस्टेंट करते हैं जैसे सफर का रिजरवेशन, पुनर्भुगतान या बिलों का भुगतान। क्लाइंट से बात करके आप ऑनलाइन यह काम कर सकते हैं।  
  10. रिसर्च: अगर आप हर हफ्ते कुछ घंटे मेहनत कर सकते हैं तो सामान्य रिसर्च जॉब्स ले सकते हैं। यह काम उन कंपनियों के लिए किया जा सकता है जो रिसर्च के लिए फंडिंग उपलब्ध करवाती हैं, साथ ही ऑनलाइन इन्वेस्टिगेशन के लिए ऑफर देती हैं।

एक टिप्पणी भेजें

  1. धन्यवाद।
    यहाँ सबसे अच्छा साइट घर काम करने के लिए।
    मुक्त रजिस्टर तो अपनी नौकरी सबमिट करें
    घर से काम
    अधिक जानकारी के लिए घर से काम

    उत्तर देंहटाएं

loading...


Free App to Make Money




Free recharge app for mobile
Click here to download
 
Top