0
अमरूद के औषधीय गुण Amrud ke aushadhiya gun, Health benefits of Guava. 

अमरूद एक बहुत ही मीठा, स्वादिष्ट, रसीला एवं पौष्टिक फल है। अमरूद को अफ्रीका का सेब भी कहा जाता है। अमरूद का पका हुआ फल खाने में उपयोग किया जाता है, कच्चे फलों को उसके तीखे स्वाद के कारण खाया नहीं जाता है। अमरूद में संतरा व नींबू की तुलना में 4 से 10 गुना अधिक विटामिन-सी पाया जाता है।


आइये जाने अमरूद के औषधीय गुण:-
  1. नमक के साथ पके अमरूद खाने से पेट दर्द में आराम मिलता है।
  2. सुबह खाली पेट 200-300 ग्राम अमरूद नियमित रूप से सेवन करने से बवासीर में लाभ मिलता है।
  3. पके अमरुद खाने से पेट का कब्ज रोग दूर हो जाता है।
  4. गर्म रेत में अमरूद को भूनकर खाने से सूखी, कफयुक्त और काली खांसी में आराम मिलता है। यह प्रयोग दिन में तीन बार करें।
  5. अमरूद की कोमल पत्तियों को चबाने से दांतों की पीड़ा (दर्द) नष्ट हो जाती है।
  6. अमरूद के पत्तों को जल में उबाल कर और फिटकरी घोलकर कुल्ले करने से दांतों की पीड़ा (दर्द) नष्ट हो जाती है।
  7. मसूढ़ों में दर्द, सूजन और आंतों में दर्द होने पर अमरूद के पत्तों को उबालकर गुनगुने पानी से कुल्ले करें आराम मिलेगा।
  8. आधे सिर के दर्द में कच्चे अमरूद को सुबह पीसकर लेप बनाएं और उसे मस्तक पर लगाएं।
  9. मलेरिया बुखार में अमरूद का सेवन लाभकारी है। नियमित सेवन से तिजारा और चौथिया ज्वर में भी आराम मिलता है। अमरूद और सेब का रस पीने से बुखार उतर जाता है। अमरूद को खाने से मलेरिया में लाभ होता है।
  10. अमरूद खाने से अथवा अमरूद के पत्तों का रस पीने से भांग का नशा उतर जाता है।
  11. मानसिक चिंताओं का भार कम करने के लिए सुबह खाली पेट पके अमरूद चबा-चबाकर खाने चाहिए।
  12. इलाहाबादी मीठे अमरूद को रोजाना सुबह और शाम नींबू, कालीमिर्च और नमक स्वाद के अनुसार अमरूद पर लगाकर खाने से दिमाग की मांस-पेशियों को शक्ति मिलती है।
  13. अमरूद के बीजों को निकालकर पीसें और लड्डू बनाकर गुलाब जल में शक्कर के साथ पियें ठंडक मिलेगी।
  14. अमरूद के पत्तों की पोटली बनाकर रात को सोते समय आंख पर बांधने से आंखों का दर्द ठीक हो जाता है। 
  15. अमरूद के ताजा पत्ते में एक छोटा-सा टुकड़ा कत्था लपेटकर पान की तरह चबाने से मुँह के छाले ठीक हो जाते हैं। 
MHB2013

एक टिप्पणी भेजें

 
Top