विद्यार्थी जीवन के नियम Vidyarthi jivan ke niyam

विद्यार्थी जीवन के नियम Vidyarthi jivan ke niyam, Rules of Student Life.

प्रिय दोस्त जिन्दगी के हर पहलु में सफलता प्राप्त करने के लिए हमें कुछ नियम बनाने पड़ते है और जब तक हम उन नियमो को पूरा नहीं करते तब तक हम कामयाबी प्राप्त नही कर सकते है। आइये आज हम विद्यार्थी जीवन के कुछ नियमो के बारे में जानकारी प्राप्त करते है।


विद्यार्थी जीवन के नियम:-
  1. सफलता प्राप्त करने के लिए अनुशासन में रहना जरूरी है। यह विद्यार्थी जीवन का सबसे पहला नियम है, इसलिये विद्यार्थी को सदैव अनुशासन में रहना चाहिये।
  2. विद्यार्थी को विद्यालय के नियमों का पालन करना चाहिये।
  3. सभी विद्यार्थियों को एक साथ मिलकर रहना चाहिये।
  4. जब अध्यापक कक्षा में ना हो तब विद्यार्थियों को उस पीरियड का कार्य करते रहना चाहिये, शोर नहीं करना चाहिये।
  5. जब अध्यापक पढ़ा रहे हो तब विद्यार्थी का पूरा ध्यान पढ़ने में ही होना चाहिये।
  6. होम वर्क नियमित तरीके से करना चाहिये।
  7. विद्यालय की किसी भी चीज को प्रयोग करें तो ध्यानपूर्वक करें, उसे किसी भी तरह से हानि ना होने दें।
  8. सभी अध्यापको का सम्मान करें और कहना माने।
  9. किसी भी गलती को छिपाने के लिए झूठ का सहारा नहीं लेना चाहिये।
  10. विद्यालय का पूर्ण अवकाश होने पर आराम से लाइन बनाकर बाहर निकले, जल्द बाजी ना करे, ऐसे में बड़ी कक्षाओ के विद्यार्थियों को छोटे बच्चो का विशेष ध्यान रखना चाहिये।
  11. विद्यार्थी को सदैव घर से विद्यालय आते - जाते समय ट्रैफिक नियमों का पालन करना चाहिये।
MHB2013

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM