आइये पढ़े कैसे होता है अच्छे व्यक्तित्व का फ़ायदा - Aaiye padhen kaise hota hai achchhe vyaktitav ka fayda

The advantage of good personality Read Nice Story. आइये पढ़े कैसे होता है अच्छे व्यक्तित्व का फ़ायदा - Aaiye padhen kaise hota hai achchhe vyaktitav ka fayda.

बात अमेरिका के फिलेडेल्फिया राज्य की है. एक बार बहुत ही घनी रात में बहुत तेज बारिश हो रही थी. एक बुजुर्ग couple बारिश में बचने के लिए किसी होटल में एक कमरा ढूँढ़ रहे थे. रात बहुत हो चुकी थी. और बाहर हालत कोई ख़ास अच्छी नहीं थी.

ऐसे में वे एक होटल में जब गए. तो बूढ़े आदमी ने कहा, “क्या हमें एक कमरा मिल सकता हैं?” manager को उन्हें भीगा हुआ देख बुरा लगा. उसने कहा “माफ़ कीजिये, हमारे होटल में एक मीटिंग हैं. और सारे कमरे उस मीटिंग में आये लोगों ने ले लिए है.” पर manager ये भी जानता था कि आसपास कोई और होटल नहीं है. और इस समय इन्हें बाहर भेजना सुरक्षित नहीं होगा. उसने आग्रह किया कि वे लोग उसके अपने कमरे में ठहर जाए. 

कमरा ज्यादा बड़ा तो नहीं है. पर आप लोग आराम से सुबह तक वहाँ रह सकते है. बूढ़े couple को पहले थोड़ी झिझक हुई. पर जब नौजवान manager ने उनसे कहा की आप मेरी चिंता मत कीजिये. मैं यहाँ ठीक हूँ. मुझे कोई दिक्कत नहीं होगी. तो फिर वे मान गए और फिर उसने उन्हें अपना कमरा दे दिया. 

जब सुबह हुई. और जाते वक़्त बूढ़े आदमी ने bill की payment की. तो उसने उस manager से कहा. तुम इस छोटे से होटल को चलाते हो पर फिर भी तुमने इतनी उदारता दिखाई. हमारी खातिरदारी की. और साथ ही खुशमिजाजी भी. तुम बहुत ही अच्छे इंसान हो. तुम्हे तो एक बहुत ही बड़े और आलीशान होटल का manager होना चाहिए….. शायद… मैं तुम्हारे लिए ऐसा एक होटल बनवाऊं? उनकी बातें सुनकर manager के चेहरे पर मुस्कराहट आ गयी. फिर उसने उन दोनों को विदा किया. 

इस बात को कुछ साल बीत गए. manager तो उस किस्से को भूल भी चुका था. फिर एक दिन उसे एक चिट्टी मिली. जिसमे उस रात का जिक्र था. उस बूढ़े दंपत्ति ने उस manager को New York में आमंत्रित किया था. जब manager वहाँ गया. और उन दोनों से फिर से मिला. तो उसे बहुत ही ख़ुशी हुई. फिर उस manager को लेकर वो बूढ़े व्यक्ति एक बड़ी सी आलिशान बिल्डिंग के सामने ले गए. जो अभी नयी नयी बनी थी. और उससे कहा, “ये देखो. ये वो होटल है जो मैंने तुम्हारे लिए बनाया हैं.” manager हैरानी से उन्हें देखने लगा, और कहा “आप मजाक कर रहे है” “नहीं मैं मजाक नहीं कर रहा हूँ”, उस व्यक्ति ने एक मुस्कान के साथ कहा. 

वो होटल न्यू यॉर्क का प्रसिद्ध Waldorf-Astoria Hotel था. और वो व्यक्ति अपने समय के अमेरिका के सबसे अमीर लोगों में से एक William Waldorf-Aster थे. और वो manager George C. Boldt थे. जो उस आलिशान और दुनिया के सबसे बेहतरीन होटल में शुमार Waldorf-Astoria Hotel के पहले manager बने. 

कहानी का आशय सीधा सा है. हमारी अच्छाई से दूसरों के साथ हमारा भी फायदा ही होता है. और ये कहाँ तक ले जाए. इसका अंदाज़ा भी हम नहीं लगा सकते.

एक टिप्पणी भेजें