गऊ माता कर रही है आपसे अनुरोध - Gau Mata kar rahi hai aapse anurodh

प्रिय दोस्त, गाय को माता कहने वाले लोग कुछ रुपयों के लिए बेच डालते हैं और खरीददार इन्हें बुच्चाड्खानो में पहुचा देते हैं जहा पर गऊ के साथ न सिर्फ अत्याचार होते हैं बल्कि गऊ की चमड़ी को भी बेच दिया जाता है. आज गऊ माता को सहारे की जरुरत है.
Read More Posts


गौ माता की पुकार को बयाँ करने के लिए कुछ पंक्तियाँ:-

हुआ मेरे पै अत्याचार, बता कित पड़कै सोरया सै..
आँख खोल ले हिन्दू, घना यूँ जुल्म होरया सै............

मनै माता कहने वाले, तनै क्यूँ मेरा ख्याल ना..
इसका दे दे जवाब, मेरा कोई और सवाल ना..
जे ना करै संभाल मेरी, क्यूँ माँ कहकै बकोरया सै............
आँख खोल ले..........

भूखी फिरू सु धक्के खांदी, कोए मेरा जोर ना..
जे ना सुनै पुकार तू मेरी, कोई मेरा और ना..
पकड़ कै मनै लेजे कसाई, किस ख्याल में खोरया सै..........
आँख खोल ले..........

श्रीकृष्ण के इस देश म, ईब मेरी कोई सुनाई ना..
कितनी घनी पीड़ा सहरी सु, जावै बताई ना..
मेरा दुःख भी समझ कदे, क्यूँ अपने दुःख रोरया सै...........
आँख खोल ले..........

जब भी सुनै दुःख दर्द मेरा, तेरै आंसू आवै सै..
थोड़ी देर बाद ही, सब कुछ भूल क्यूँ जावै सै..
कहै सतीश सुरबरा गऊ पाल ले, क्यूँ झगड़े झोरया सै...........
आँख खोल ले..........