सुकरात के अनमोल विचारों का संग्रह - Sukrat ke anmol vicharon ka sangrah

प्रिय दोस्त इस पोस्ट पर आप सुकरात के अनमोल विचार पढ़ सकते हो और यदि आप इनसे सहमत हो तो आप इन विचारों को अपने जीवन में धारण जरुर करें. इन विचारों को अपने दोस्तों और अन्य लोगों तक पहुँचाने के लिए इस पोस्ट को शेयर करें.

  • अधिकतर आपकी  गहन  इच्छाओं  से  ही  घोर  नफरत  पैदा  होती  है .
  • अपना  समय  औरों  के  लेखों  से  खुद  को  सुधारने  में  लगाइए , ताकि  आप  उन   चीजों  को  आसानी   से  जान  पाएं  जिसके  लिए  औरों  ने  कठिन  मेहनत  की  है .
  • इस दुनिया में सम्मान से जीने का सबसे महान तरीका है कि हम वो बनें जो हम होने का दिखावा करते हैं.
  • एक ईमानदार आदमी हमेशा एक बच्चा होता है.
  • चाहे  जो  हो  जाये  शादी  कीजिये . अगर  अच्छी  पत्नी  मिली   तो  आपकी  ज़िन्दगी  खुशहाल रहेगी ; अगर  बुरी  पत्नी  मिलेगी तो  आप  दार्शनिक  बन  जायेंगे .
  • जहाँ तक मेरा सवाल है , मैं  बस  इतना  जानता  हूँ  कि  मैं  कुछ  नहीं  जानता.
  • जहाँ सम्मान है वहां डर है ,पर ऐसी हर जगह सम्मान नहीं है जहाँ डर है, क्योंकि संभवतः डर सम्मान से ज्यादा व्यापक है.
  • ज़िन्दगी नहीं , बल्कि एक अच्छी ज़िन्दगी को महत्ता देनी चाहिए.
  • झूठे शब्द  सिर्फ  खुद  में  बुरे   नहीं  होते , बल्कि  वो  आपकी  आत्मा  को  भी बुराई से संक्रमित कर देते हैं.
  • मित्रता  करने  में  धीमे  रहिये , पर  जब  कर  लीजिये  तो उसे मजबूती से  निभाइए  और  उस पर स्थिर रहिये.
  • मूल्यहीन व्यक्ति केवल खाने और पीने के लिए जीते हैं; मूल्यवान व्यक्ति केवल जीने के लिए खाते और पीते हैं.
  • मृत्यु संभवतः मानवीय वरदानो में सबसे  महान  है .
  • मैं  सभी  जीवित  लोगों  में  सबसे  बुद्धिमान   हूँ , क्योंकि  मैं  ये  जानता  हूँ  कि  मैं  कुछ  नहीं  जानता  हूँ .
  • वो  सबसे   धनवान  है  जो कम से  कम  में  संतुष्ट  है , क्योंकि  संतुष्टि  प्रकृति  कि  दौलत  है .
  • शादी या ब्रह्मचर्य , आदमी  चाहे  जो  भी  रास्ता  चुन  ले , उसे  बाद  में  पछताना ही पड़ता है.
  • सिर्फ जीना मायने नहीं रखता , सच्चाई से जीना मायने रखता है.
  • सौंदर्य एक अल्पकालिक अत्याचार है.
  • हमारी प्रार्थना बस सामान्य रूप से आशीर्वाद के लिए होनी चाहिए, क्योंकि भगवान जानते हैं कि हमारे लिए क्या अच्छा है.
  • हर  व्यक्ति  की  आत्मा   अमर  होती  है  , लेकिन  जो  व्यक्ति  नेक  होते  हैं  उनकी  आत्मा  अमर  और  दिव्य होती  है.

एक टिप्पणी भेजें