दान भक्ति का हमें परमात्मा देना - Daan bhakti ka humen parmatma dena

प्रिय दोस्त इस पोस्ट पर आप "दान भक्ति का हमें परमात्मा देना" नामक प्रार्थना पढ़ सकते हो. इन्सान सिर्फ लोभ, लालच, धन और मोह में फसकर भगवान से दूर होता जा रहा है. लेकिन जिस मालिक ने हमें बनाया है उसका सिमरन करना भी बहुत जरुरी है.

अपने दिन भर के काम की शुरुआत करने से पहले हमें भगवान की प्रार्थना करनी चाहिए:-

दया कर दान भक्ति का हमें परमात्मा देना I
दया करना हमारी आत्मा में शुद्धता देना   II

हमारे ध्यान में आओ, प्रभु आखों में बस जाओ,
अंधेरे दिल में आ कर के परम् ज्योति जगा देना  II

बहा दो प्रेम की गंगा, दिलों में प्रेम का सागर,
हमें आपस में मिलजुल कर, प्रभु रहना सिखा देना   II

हमारा कर्म हो सेवा, हमारा धर्म हो सेवा,
सदा ईमान हो सेवा, वो सेवकचर बना देना  II

वतन के वास्ते जीना, वतन के वास्ते मरना,
वतन पर जाँ फ़िदा करना प्रभु हमको सिखा देना   II

दया कर दान भक्ति का हमें परमात्मा देना,
दया करना हमारी आत्मा में शुद्धता देना   II

Read More Posts
© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM