किन मूर्तियों को घर में नहीं रखना चाहिए Kin murtiyon ko ghar me nahin rakhna chahiye

प्रिय दोस्त यदि आप देवी-देवताओं में आस्था रखते हो तो निसंदेह आपके घर में देवी-देवताओं की मुर्तियां भी जरुर होंगी. मैं तो ये भी कहूँगा की होनी भी चाहिए क्योंकि देवी-देवताओं की कृपा हमेशा हम पर बनी रहे इसके लिए घर-घर में भगवान की प्रतिमाएं रखने और छोटे-छोटे मंदिर बनाने की परंपरा पुराने समय से चली आ रही है। 
Read More Posts


लेकिन हमें ये भी जानना होगा की घर में कैसी मूर्तियां रखनी चाहिए और किस प्रकार की मूर्तियां नहीं रखना चाहिए, इस संबंध में शास्त्रों में कई प्रकार के नियम बताए गए हैं। Read More Posts
वैसे तो कण-कण में परमात्मा विद्यमान है। फिर भी भगवान की आराधना में हमारा ध्यान या मन पूरी तरह से लगा रहे इसके लिए मूर्तियों की पूजा की जाती है। मूर्तियों की पूजा के संबंध में एक बात ध्यान रखने योग्य है कि यदि कोई मूर्ति किसी प्रकार से खंडित हो जाए तो उसकी पूजा नहीं करना चाहिए। केवल शिवलिंग को खंडित नहीं माना जाता है क्योंकि भगवान शिव को निराकार माना गया है। अत: शिवलिंग हर स्थिति में पूजनीय और पवित्र रहता है। Read More Posts

ईश्वर की भक्ति में भगवान की मूर्ति का अत्यधिक महत्व है। प्रभु की मूर्ति देखते ही भक्त के मन में श्रद्धा और भक्ति के भाव स्वत: ही उत्पन्न हो जाते हैं। शास्त्रों के अनुसार भगवान की प्रतिमा पूर्ण होना चाहिए, यदि मूर्ति खंडित हो तो उसे पूजा योग्य नहीं माना जाता है। खंडित मूर्ति की पूजा को अपशकुन भी माना गया है। प्रतिमा की पूजा करते समय भक्त का पूरा ध्यान भगवान और उनके स्वरूप की ओर ही होता है। Read More Posts

अत: ऐसे में यदि प्रतिमा खंडित होगी तो भक्त का सारा ध्यान उस मूर्ति के खंडित हिस्से पर चला जाएगा और वह पूजा में मन नहीं लगा सकेगा। जब पूजा में मन नहीं लगेगा तो व्यक्ति भगवान की ठीक से भक्ति नहीं कर सकेगा। पूजा अधूरी रह जाएगी। इसी बात को समझते हुए प्राचीन काल से ही खंडित मूर्ति की पूजा को अपशकुन बताते हुए उसकी पूजा निष्फल बताई गई है।

खंडित मूर्ति के कारण वातावरण में नकारात्मक ऊर्जा अधिक सक्रीय हो जाती है, इसी कारण ऐसी प्रतिमाओं को घर में भी नहीं रखना चाहिए। खंडित प्रतिमाओं को किसी पवित्र नदी या सरोवर में प्रवाहित कर देना चाहिए। Read More Posts
© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM