0
प्रिय दोस्त यदि आप दर्द भरें एस एम एस पढ़ने के इच्छुक है तो आप इस पोस्ट पर अपनी इस इच्छा को पूरा कर सकते हो. क्योंकि हम आपके लिए कुछ Sad एस एम एस लेकर हाजिर हुए है. आप इस पोस्ट पर दिए गए सभी एस एम एस बिना किसी शुल्क के पढ़ सकते हो....

ऑंखें तेरी अब मुझसे शर्माने लगी है,
जुबां भी तेरी अब लडखड्डाने लगी है,
जो दिल में है तेरे वो कह ही दे;
हरकते तेरी ये सब मुझे सताने लगी है।
>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>>

कभी तुझे भुलाना चाहा,
कभी तुझे मनाना चाहा,
मैंने जब भी चाहा सिर्फ,
तुझे ही चाहा,
जाने क्या बात लिखी थी मेरी किस्मत में,
तूने जब भी चाहा सिर्फ मुझे रुलाना ही चाहा.
========================

मौसम को मौसम की बहारों ने लूटा ,
हमे कश्ती ने नहीं, किनारों ने लूटा,
आप तो डर गये मेरी एक ही कसम से,
आपकी कसम देकर हमें तो हज़ारों ने लूटा...!!

एक टिप्पणी भेजें

 
Top