आइये जानते है कुत्ते से जुड़े कुछ शुभ - अशुभ संकेत Kutte se jude kuchh shubh ashubh sanket

कुत्ता एक वफादार और पालतू जानवर है। यह मनुष्यों के काफी करीब हैं। इसे घरों में पाला भी जाता है। बड़े घरों में पालतू जानवरों को पालना स्टेट्स सिंबल माना जाता है। यह अपनी हरकतों या इशारों से हमें शकुन-अपशकुन के बारे में पहले से ही बता देता हैं, लेकिन जरूरत है उन इशारों को समझने की।

 

इसके क्रिया-कलापों को देखकर शकुन-अपशकुन के बारे में आसानी से जाना जा सकता है। आज हम आपको इस पोस्ट में कुत्ते से जुड़े कुछ शकुन व अपशकुन के बारे में बता रहे हैं।

कुत्ते से जुड़े कुछ शुभ - अशुभ संकेत -
  1. कहीं जाते समय यदि कुत्ता सामने आकर भौंकने लगे या कान फडफडाने लगे तो अशुभ माना जाता है। इस स्थिति में थोडी देर के लिए रूक जाना चाहिए।
  2. यदि कुत्ता घर में बैठकर दाहिने पैर से दाहिनी आंख को खुजाता है तो मित्रजनों के आगमन की संभावना होती है।
  3. यदि किसी जगह बिना प्रयोजन बहुत सारे इकट्ठे हो जाएं और चिंतित दिखाई दे तो वहां आस-पास के लोगों में भयंकर लडाई-झगडा होने की संभावना रहती है। साथ ही कुछ लोगों को कारावास होने की भी संभावना रहती है।
  4. प्रात: सर्वप्रथम समागमरत कुत्ते को देखना अशुभ माना जाता है। इस दिन कोई नया काम नहीं करना चाहिए।
  5. यदि कुत्ता अचानक धरती पर लगातार अपने सिर को रगडता है तो उस जगह भूमि में गडे हुए धन की सूचना देता है।
  6. किसी यात्रा पर जाते समय कुत्ता मुंह में पत्थर या हड्डी का टुकडा दबाए गुर्राता दिखाई दे तो यात्रा के दौरान कष्टों की संभावना रहती है।
  7. हल्दी या मांस से सने मुख वाला कुत्ता यदि घर में आकर भौंकता है तो स्वर्ण प्राप्ती का योग बनता है।
  8. कुत्ता यदि अचानक धरती पर अपना सिर रगड़े और यह क्रिया बार-बार करे तो उस स्थान पर गढ़ा धन होने की संभावना होती है।
  9. यदि यात्रा करते समय किसी व्यक्ति को कुत्ता अपने मुख में रोटी, पूड़ी या अन्य कोई खाद्य पदार्थ लाता दिखे, तो उस व्यक्ति को धन लाभ होने की संभावना बढ़ जाती है।
  10. यात्रा के लिए जाते हुए यदि कोई कुत्ता बांई ओर संग-संग चले, तो सुंदर स्त्री और धन की प्राप्ति हो सकती है। यदि दाहिनी ओर चले तो चोरी या और किसी प्रकार से धन हानि की सूचना देता है।
  11. यदि किसी रोगी के सामने कुत्ता अपनी पूंछ या ह्रदय स्थल बार-बार चाटे तो शकुन शास्त्र के अनुसार बहुत ही जल्दी उस रोगी की मृत्यु होने की संभावना रहती है।
  12. यदि किसी स्थान पर बहुत से कुत्ते एकत्रित होकर भौंके तो वहां रहने वाले लोगों पर कोई बड़ी विपत्ति आ सकती है या फिर वहां के लोगों में भयंकर लड़ाई-झगड़ा होने के योग बनते हैं।
  13. यदि कुत्ता बाएं घुटने को सूंघते हुए दिखे तो धन प्राप्ति संभव है तथा दाहिने घुटने के सूंघता दिखे तो पत्नी से झगड़ा हो सकता है। बांई जांघ को सूंघे तो स्त्री से समागम और दाईं जांघ को सूंघे तो मित्र से वैर होने की संभावना रहती है।
  14. भोजन करते समय यदि कोई कुत्ता अपनी पूंछ उठाकर सिर को हिलाता है तो वह भोजन नहीं करना चाहिए क्योंकि वह भोजन करने से रोगी होने की संभावना रहती है।
  15. यदि किसी यात्री को देखकर कुत्ता भय से या क्रोध से गुर्राता है अथवा बिना किसी कारण से इधर-उधर चक्कर काटे, तो उस यात्रा करने वाले को धन की हानि हो सकती है।
  16. यदि कुत्ता किसी व्यक्ति के घर में आकाश को या वहां पडे गोबर को बहुत देर तक लगातार ताकता रहता है तो उस घर के मालिक को धन प्राप्ती की संभावना रहती है।
  17. यदि किसी जुआरी को जुआ खेलते जाते समय दाईं ओर कुत्ता मैथुन करता मिले तो उसे जुएं में अत्यधिक लाभ होता है।
  18. कुत्ता यदि अपनी जीभ से अपने दाहिने अंग को चाटता है अथवा खुजलाता है, तो ये कार्य सिद्धि की सूचना है या जीभ से पेट को छूता हुआ दिखाई दे तो लाभ हो सकता है।
  19. यदि किसी व्यक्ति की चारपाई के नीचे घुसकर कुत्ता भौंकता है, तो उस चारपाई पर सोने वाले को रोग और मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है। यदि कुत्ता पेड़ के नीचे खड़ा होकर भौंकता है, तो ये वर्षाकाल में अच्छी वर्षा का संकेत होता है।
  20. किसी किसान को हल ले जाते हुए रास्ते में कुत्ता बांई और मिल जाए और फिर घर आते समय दाहिनी ओर मिले तो उसकी उपज अच्छी होती है।
  21. यात्रा पर जाते समय कुत्ता जूते लेकर भाग जाए या किसी और के जूते लेकर सामने आ जाए, तो उस व्यक्ति के धन को चोर चुरा सकते हैं।