बिना नंबर की या फ्रौड कॉल आने पर क्या करें Bina number ki ya froud call aane par kya karen

आजकल हर हाथ में मोबाइल फोन देखने को मिलता है। इससे पता चलता है कि टेक्नोलॉजी काफी बढ़ चुकी है। लोग कंप्यूटर पर काम करते है। ऑनलाइन ही बहुत सारे काम निपटा लेते है। ऐसा कह लीजिए की इन्सान कंप्यूटर बन गया है लेकिन फिर भी न जाने क्यों? इंसान धोखा खा ही जाता है।


मुझे लगता है बात को घुमाने की बजाय सीधे - सीधे समझाना पड़ेगा। मैं मोबाइल फोन पर आने वाली नो नंबर (NO NUMBER) और इंटरनेशनल कॉल या मिस्ड कॉल की बात कर रहा हूँ। आए दिन इस तरह की कॉल मोबाइल पर आती रहती है।

उपभोक्ता के नंबर पर ऐसी कॉल आने के बाद वह गलती से कॉल रिसीव करता है या मिस  कॉल आने पर उस नंबर पर वापस कॉल करता है तो बिना कोई रिस्पांस मिले उसके फोन से बैलेंस कट जाता है।

यदि आपके पास आई कॉल में फोन नंबर के आगे +91 नहीं लगा हुआ है, केवल कुछ डिजिट का नंबर दिखाई देता है या नंबर बिलकुल ही दिखाई नहीं दे रहा है तो इस तरह की कॉल को रिसीव नहीं करना चाहिए। बल्कि ट्राई की ओर से जारी टोल-फ्री नंबर पर इसकी जानकारी देनी चाहिये।

यदि आपके पास ऐसी कॉल आए तो इसकी सूचना ट्राई (टेलीफोन रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया) द्वारा जारी टोल-फ्री नंबर 1800110420 पर दें। 

चूंकि टोल फ्री नंबर के बारे में बहुत कम लोगों को जानकारी है और ऐसे में अब देश की टेलीकॉम कंपनियों ने गंभीरता से इस दिशा में कदम उठाते हुए अपने उपभोक्ताओं को ज्यादा से ज्यादा जागरूक करना शुरू कर दिया है। कंपनियों ने अपने उपभोक्ताओं को मैसेज भेजकर टोल-फ्री नंबर के बारे में जानकारी देना शुरू कर दिया है।

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM