गर्मियों में सूती वस्त्र पहनने के फायदे - Garmiyon me suti vastar pahanne ke fayde

ज्यादातर लोग अपनी भलाई के बारे में नहीं सोच रहे हैं। उदाहरण के तौर पर अपने देश में ही आप ऐसे लोगों को देख सकते हैं, जो गर्मी के दिनों में भी काले रंग के कपड़े पहने घूम रहे हैं। आप क्या खाते हैं, क्या पहनते हैं और कैसे रहते हैं, इसी से आपका स्वास्थ्य तय होता है।


यह दुर्भाग्य की बात है कि ज्यादातर लोग कुछ भी पहन लेते हैं। वे इस बात की जरा भी परवाह नहीं करते कि उन्हें कैसे कपड़े पहनने चाहिए और क्यों।

आजकल जैविक खेती करने पर भी ज्यादा जोर दिया जा रहा है ताकि हमारा भोजन जैविक हो, इसी प्रकार से हमारे कपड़े भी सिंथेटिक की बजाय जैविक ही होने चाहिये। जैविक कपड़ों से मतलब जैविक तरीके से तैयार की गई कपास या रेशम से बने कपड़े है।

गर्मियों में सूती वस्त्र पहनने के फायदे -
  • सिंथेटिक कपड़े आपके शारीरिक और मानसिक सेहत पर असर डाल सकते हैं।
  • कपास से तैयार होने के कारण सूती वस्त्र प्राकृतिक हैं।
  • ये सिंथेटिक के मुकाबले काफी आराम व ठंडक पहुंचाते हैं।
  • सूती के कपड़े बहुत आरामदायक होते है। गर्मी में महिलाएं सूती साड़ी प्रमुखता से खरीदती हैं।
  • सिंथेटिक कपड़ों से पसीना नहीं सूखता है। इस कारण शरीर में खुजली के साथ- साथ घमौरी, दाने व चकते भी आ सकते हैं, सूती के वस्त्र पसीने को सोखते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

© Copyright 2013-2017 - Hindi Blog - ALL RIGHTS RESERVED - POWERED BYBLOGGER.COM