For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

इस तरह से करें घर पर जुकाम का इलाज Is tarah se karen ghar par jukam ka ilaz

बदलते मौसम के कारण सर्दी जुकाम का होना आम बात है। कई बार ऐसा भी होता है की तेज धुप में घूमते घूमते हमें प्यास लग जाती है और हम कहीं भी रुक कर ठंडा पानी या cold drinks पी लेते है जिसकी वजह से हमें सर्दी जुकाम हो जाती है। आइये पढ़ें जुकाम का इलाज कैसे करे?...

 

कभी कभी ज्यादा जुकाम होने की वजह से हमें बुखार और सर दर्द का भी सामना करना पड़ता है। जुकाम होने पर कोई भी काम करने में मन नहीं लगता है। कभी कभी ज्यादा जुकाम हो जाने पर हमें सुस्ती लगती है। अक्सर जुकाम होने पर हमारे नाक बंद हो जाते है जिसकी वजह से हमें सांस लेने में तकलीफ होती है। जुकाम को आप अपने घर पर भी ठीक कर सकते है।

जुकाम का इलाज ऐसे करे -
  • तुलसी और अदरक का रस मिला लें। इसकी एक चम्मच मात्रा लेकर थोड़ा गर्म कर लें। जब यह ठंडा हो जाए तो इसमें आधा चम्मच शहद मिला लें और दिन में तीन बार लें। शुगर वाले लोग सिर्फ एक बूंद शहद मिलाएं।
  • काली मिर्च पाउडर दो चुटकी, हल्दी पाउडर दो चुटकी, सौंठ पाउडर दो चुटकी, लौंग का पाउडर एक चुटकी और बड़ी इलायची आधी चुटकी। इन सबको एक गिलास दूध में डालकर उबाल लें। इस दूध में मिश्री मिलाकर पीने से जुकाम ठीक हो जाता है। शुगर वाले मिश्री की जगह स्टीविया तुलसी का पाउडर मिला लें। यह बिना शुगर बढ़ाए मीठा स्वाद देता है। हाई बीपी व दिल के मरीज भी ले सकते हैं।
  • एक बड़ी इलायची पीसकर उसमें चुटकी भर हल्दी व चुटकी भर काली मिर्च मिला लें। इसे शहद, मलाई या पानी से लें।
  • आधा चम्मच सौंठ में चार दाने काली मिर्च के पीसकर मिला लें। इस पाउडर को शहद मिलाकर दिन में तीन-चार बार चाटें।
  • अदरक का रस निकालकर शहद के साथ हल्का गर्म करके लें।
  • काले जीरे को हल्का भूनकर सूंघने से नाक खुल जाती है।
  • पाव भर दूध में दस-बारह काली मिर्च व दो-तीन बालियां केसर की मिला लें। इसके बाद मिश्री मिलाकर दूध लें।
  • तुलसी के दस-पंद्रह पत्ते धोकर आधी कटोरी पानी में दो-चार घंटे रख दें। तुलसी का असर उसमें आ जाएगा। इस पानी को पी लें। दिन में दो-तीन बार ऐसा करें।
  • खसखस के दाने दो-तीन छोटे चम्मच और चार काली मिर्च को पीसकर मिला लें। इसे दूध में अच्छी तरह उबालकर पीने से फायदा होता है।
  • तुलसी और अदरक की चाय लें।
  • सौंठ, मुलहटी, काली मिर्च व पीपली का पाउडर बना लें। चौथाई चम्मच से जरा कम शहद मिलाकर दिन में दो बार चाटें। शुगर वाले इसे मलाई से लें।
  • 50 ग्राम भुने चने, 20 ग्राम कलौंजी व 10 ग्राम पनवाड़ी वाले चूने को पोटली में बांध लें। इसे तवे पर गम करके रात को बार-बार सूंघें। इसे किसी भी मौसम में किया जा सकता है। चूना व कलौंजी न मिलने पर सिर्फ चने भी सूंघ सकते हैं।
  • आधा चम्मच हल्दी गर्म कर लें। इसे एक चम्मच शहद में मिलाएं और शाम या रात को लें। एक घंटे तक पानी न पीएं। मौसमी जुकाम में यह बेहतर है। शुगर के पेशंट शहद की जगह दूध या गर्म पानी में हल्दी डाल लें।
  • एक चम्मच हल्दी को तवे पर गर्म करके उसका धुआं लें। आराम आ जाएगा। दिन में दो बार कर सकते हैं।
  • 50 ग्राम अदरक को पानी में उबालकर उसकी भाप लें। उस गर्म पानी में तौलिया भिगोकर छाती पर रखकर सिकाई भी कर सकते हैं।
  • एक तौला अदरक पीसकर भून लें। इसमें एक तौला गुड़ मिलाकर रात को खा लें। ऊपर से पानी न पीएं। दो-तीन दिन में आराम आ जाएगा।
  • चाय के साथ आधी चम्मच हल्दी लें।

कोई टिप्पणी नहीं