Breaking News
recent
Click here to download
loading...

जानिये हरड़ के आयुर्वेदिक उपयोग और फायदे Janiye harad ke aayurvedik upyog aur fayde

हरड़ (Terminaliya Chebula/Myrobalans) संजीवनी का काम करती है। हरड़ का पेड़ सीधा और तना हुआ होता है, इसके पत्ते हल्के पीले या सफ़ेद रंग के होते है। हरड़ 2 तरह की होती है छोटी हरड़ और बड़ी हरड़। आज हम आपको इसके फायदों के बारे में बताएंगें। हरड़ का सेवन गर्भवती स्त्रियों को नहीं करना चाहिए।

 

हरड़ के फायदे - 
  • आयुर्वेद के अनुसार हरड़ दिमाग को तेज और आखों को लाभ देती है।
  • यह शरीर को ताकतवर और निरोगी बनाती है।
  • रात के समय में सेंधा नमक के साथ हरड़ को चूसने से दमा ठीक होता है।
  • आंवले के रस में हरड़ का रस मिलाकर सेवन करने से एसिडिटी और छाती में दर्द की समस्या से छुटकारा मिलता है।
  • हरड़ का काढ़ा बनाकर उसमे पानी मिलाकर आखों को धोने से आखों की सूजन, लालीमाँ या आखों में दर्द जैसी समस्याओं में आराम आता है।
  • बवासीर को जड़ से खत्म करने के लिए एरंड के तेल में हरड़ को भूने, जब वह भूरे रंग की हो जाए, उसका चूर्ण बना ले और आधा चम्मच इस चूर्ण को चूसे यह कब्ज दूर करके बवासीर को खत्म करता है।
  • वात, पित्त, और कफ तीनों दोष हरड़ को भूनकर खाने से दूर होते है।
  • खाना खाने के साथ हरड़ लेने से इंसान की ताकत बढ़ती है।
  • हरड़ के इस्तेमाल से जुकाम, नजला, चोट के घाव, अधिक पसीना, आदि की समस्या दूर होती है।
  • हरड़ के टुकड़ों को चबाकर खाने से भूख बढ़ती है |
  • छोटी हरड़ को पानी में घिसकर छालों पर प्रतिदिन तीन बार लगाने से मुहं के छाले नष्ट हो जाते हैं। इसको आप रात को भोजन के बाद भी चूंस सकते है।
  • छोटी हरड़ को पानी में भिगो दें। रात को खाना खाने के बाद चबा चबा कर खाने से पेट साफ़ हो जाता है और गैस कम हो जाती है।
  • कच्चे हरड़ के फलों को पीसकर चटनी बना लें। एक -एक चम्मच की मात्रा में तीन बार इस चटनी के सेवन से पतले दस्त बंद हो जाते हैं।
  • हरड़ का चूर्ण एक चम्मच की मात्रा में दो किशमिश के साथ लेने से एसीडिटी ठीक हो जाती है।
  • हरड़ को पीसकर उसमे शहद मिलाकर चाटने से उल्टी आनी बंद हो जाती है।
  • भोजन के बाद अगर पेट में भारीपन महसूस हो तो हरड़ का सेवन करने से राहत मिलती है।
  • हरड़ को पीसकर आंखों के आसपास लगाने से आंखों के रोगों से छुटकारा मिलता है।
  • हरड़ का सेवन लगातार करने से शरीर में थकावट महसूस नहीं होती और स्फूर्ति बनी रहती है।
  • हरड़ पेट के सभी रोगों से राहत दिलवाने में मददगार साबित हुई है।
  • हरड़ का सेवन करने से खुजली जैसे रोग से भी छुटकारा पाया जा सकता है।
  • अगर शरीर में घाव हो जांए हरड़ से उस घाव को भर देना चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

loading...


Free App to Make Money




Free recharge app for mobile
Click here to download

All Posts

Blogger द्वारा संचालित.