For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

इस मंदिर को संतानदात्री के नाम से जाना जाता है - Fars par sone se mahiaye ho jati hai Garbhvati

इस मंदिर को संतानदात्री के नाम से जाना जाता है - Fars par sone se mahiaye ho jati hai Garbhvati - चमत्कार के कई अजब किस्से तो आपने सुने होंगे, पर क्या आपने कभी ऐसा सुना है कि किसी मंदिर के फर्श में सोने से महिलाएं गर्भ धारण कर लेती है। जी हां ये बात सच हैं। हिमाचल में पहाडियों के बीच बसे एक सिमस नाम के गांव में एक ऐसा मंदिर हैं जहां निःसंतान महिलाए अपनी सुनी गोद को भरने के लिए इस मंदिर के द्वार पर आती हैं।


यहां आने वाली महिलाएं दिन रात यहां रह कर मंदिर के फर्श पर सोई हुई रहती हैं। जिससे यह माना जाता है की वह गर्भ धारण कर लेती है। बता दें की यहाँ की यह मान्यता है की जिस भी औरत को बच्चा नहीं होता वह केवल इस मंदिर के फर्श पर सोने से गर्भ धारण कर लेती है। इस मंदिर को दुनियां भर में संतानदात्री के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर में नवरात्र का समय सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होता है। इस समय को मंदिर में सलिन्दरा उत्सव कहा जाता है, जिसका मतलब होता है सपने आना। यही वह खास समय होता है जब निःसंतान महिलाए अपनी सुनी गोद को भरने के लिए इस मंदिर के द्वार पर आती हैं। www.merahindiblog.com

यह मन्दिर हिमाचल में पहाडियों के बिच बसे एक सिमस नाम के गांव में है, जहां दूर दूर से लोग अपनी खली झोली को भरकर लेजाने के लिए आते हैं। बतादें की यहाँ की यह मान्यता है की जिस भी औरत को बच्चा नहीं होता वह केवल इस मंदिर के फर्श पर सोने से गर्भ धारण कर लेती है। चलिए आपको बतातें हैं इस अनोखे मंदिर की कुछ खास बातों के बारे में। www.merahindiblog.com

हिमाचल के सिमस में इस्थित इस मंदिर को दुनियां भर में संतानदात्री के नाम से जाना जाता है। बतादें की इस मंदिर में नवरात्र का समय सबसे ज्यादा महत्वपूण होता है। इस समय को मंदिर में सलिन्दरा उत्सव कहा जाता है, जिसका मतलब होता है सपने आना। यही वह खास समय होता है जब निःसंतान महिलाए अपनी सुनी गोद को भरने के लिए इस मंदिर के द्वार पर आती हैं। यहां आने वाली महिलाएं दिन रात यहां रह कर मंदिर के फर्श पर सोई हुई रहती हैं। जिससे यह माना जाता है की वह गर्भ धारण कर लेती है। www.merahindiblog.com

कोई टिप्पणी नहीं