नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली तो क्या उसका बाप भी नहीं चल सकता....

चुल्लू को टेस्ट में मास्टर ने रिक्तस्थान भरने के लिए कहा..

नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली ...., ...,चली।

चुल्लू ने लिख दिया - नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली धीरे-धीरे चली।

मास्टर साहब बोले- तू पागल हो गया है क्या? नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली हज को जाती है।

चुल्लू - देखो मास्टर साहब पहली बात यह है कि हम हिन्दू है, तो बिल्ली को हज पर क्यों भेजेँ? भेजना ही होगा तो हरिद्वार भेजेँगे, काशी मथुरा भेजेंगे....

और रही बात खाली स्थान में धीरे-धीरे लिखने की, वो तो आप के सम्मान के लिए लिख दिया था वरना नौ सौ चूहे खाकर बिल्ली तो क्या उसका बाप भी नहीं चल सकता....

एक टिप्पणी भेजें