आयुर्वेद के अनुसार high BP की बीमारी ठीक करने के लिए घर में उपलब्ध कुछ आयुर्वेदिक दबाईया

उच्च रक्तचाप (high blood pressure) जिसे हाइपरटेंशन (hypertension) भी कहा जाता है। यह एक बहुत ही गंभीर समस्या है। अगर रोगी को सही समय पर सही चिकित्सीय मदद नही मिलती तो इससे हार्ट अटैक (heart attack),ब्रेन हैमरेज (brain hemrage), भी होने का खतरा रहता है। हाई ब्लड प्रेशर वो रोग है जिसमे ह्दय के संकुचन की अवस्था मे रक्त वाहिकाओ मे खून का दबाव पारे के 140 mm से ज्यादा होता है। जिससे ह्दय द्वारा नसों मे खून भेजने मे मुश्किल  होती है जिस कारण blood pressure बन जाता है।

 

ब्लड प्रेशर होने की सबसे खास वजह है। शारीरिक गतिविधियों की कमी,मोटापा, तनाव, धुम्रपान, नशा आदि। आयुर्वेद के अनुसार high BP की बीमारी ठीक करने के लिए घर में उपलब्ध कुछ आयुर्वेदिक दबाईया है जो आप ले सकते है।

(1) आप के घर में मौजूद दालचीनी जो मसाले के रूप में उपयोग होता है वो एक बहुत अच्छी दवा है, इसे आप पत्थर में पिस कर पावडर बना कर आधा चम्मच रोज सुबह खाली पेट गरम पानी के साथ खाइए। अगर थोडा खर्च कर सकते है तो दालचीनी को शहद के साथ लीजिये (आधा चम्मच शहद आधा चम्मच दालचीनी) गरम पानी के साथ, ये हाई BP के लिए बहुत अच्छी दवा है।

(2) एक और अच्छी दवा है जो आप ले सकते है पर दोनों में से कोई एक ही लेनी है। दूसरी दावा है मेथी दाना। मेथी दाना आधा चम्मच लीजिये एक ग्लास गरम पानी में और रात को भिगो दीजिये, रात भर पानी में पड़ा रहने दीजिये और सुबह उठ कर पानी को पी लीजिये और मेथी दाने को चबा के खा लीजिये। ये बहुत जल्दी आपके हाई BP को कम कर देगा, लगभग 2 महीने में एकदम स्वाभाविक कर देगा।

(3) हाई BP के लिए एक तीसरी अच्छी दवा है, वो है अर्जुन की छाल। अर्जुन एक वृक्ष है. उसकी छाल को धुप में सुखा कर पत्थर में पिस के इसका पावडर बना लीजिये। आधा चम्मच पावडर, आधा ग्लास गरम पानी में मिलाकर उबाल ले और खूब उबालने के बाद इसको चाय की तरह पी लीजिये। ये हाई BP को ठीक करेगा, कोलेस्ट्रोल को ठीक करेगा, ट्राईग्लिसाराईड को ठीक करेगा, मोटापा कम करता है , हार्ट में अर्टेरिस में अगर कोई ब्लोकेज है तो वो ब्लोकेज को भी निकाल देता है। डॉक्टर अक्सर ये कहते है न कि दिल कमजोर है आपका; अगर दिल कमजोर है तो आप हरदिन जरुर अर्जुन की छाल लीजिये, दिल बहुत मजबूत हो जायेगा, आपका ESR ठीक होगा, ejection fraction भी ठीक हो जायेगा, ये अर्जुन की छाल बहुत अच्छी दवा है।

(4) एक अच्छी दवा और है हमारे घर में, वो है लौकी का रस। एक कप लौकी का रस रोज पीना सबेरे खाली पेट नास्ता करने से एक घंटे पहले और इस लौकी के रस में पांच धनिया पत्ता, पांच पुदीना पत्ता, पांच तुलसी पत्ता मिलाकर तिन चार काली मिर्च पिस के ये सब डाल के पीना, ये बहुत अच्छा आपका BP ठीक करेगा और ये ह्रदय को भी बहुत व्यवस्थित कर देता है, कोलेस्ट्रोल को ठीक रखेगा, डाईबेटिस में भी काम आता है।

(5) एक और मुफ्त की दवा है, बेल पत्र के पत्ते – ये उच्च रक्तचाप में बहुत काम आते है। पांच बेल पत्र ले कर पत्थर में पिस कर उसकी चटनी बनाइये अब इस चटनी को एक ग्लास पानी में डाल कर खूब गरम कर लीजिये , इतना गरम करिए के पानी आधा हो जाये, फिर उसको ठंडा करके पी लीजिये। ये सबसे जल्दी उच्च रक्तचाप को ठीक करता है और ये बेलपत्र आपके सुगर को भी सामान्य कर देगा। जिनको उच्च रक्तचाप और सुगर दोनों है उनके लिए बेल पत्र सबसे अच्छी दवा है।

(6) एक मुफ्त की दवा है हाई BP के लिए – देशी गाय की मूत्र पी लीजिये, आधा कप रोज सुबह खाली पेट ये बहुत जल्दी हाई BP को ठीक कर देता है और ये गोमूत्र बहुत अद्भूत है, ये हाई BP को भी ठीक करता है और लो BP को भी ठीक कर देता है – दोनों में काम आता है और ये ही गोमूत्र डाईबिटिज को भी ठीक कर देता है, Arthritis, Gout (गठिया) दोनों ठीक होते है। अगर आप गोमूत्र लगातार पीते रहे तो दमा भी ठीक हो जाता है, अस्थमा भी ठीक होता है, Tuberculosis भी ठीक हो जाती है । इसमें दो सावधानिया ध्यान रखने की है कि गाय सुद्धरूप से देशी हो और वो गर्भावस्था में न हो।

एक टिप्पणी भेजें