For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

जब आत्मा कान में कह जाती है भविष्य - Tantra Vidya

क्या आपने कभी किसी ऐसे व्यक्ति के बारे में सुना है या आप किसी ऐसे व्यक्ति से मिले हैं जिसने आपको देखकर ही यह बता दिया हो कि आपके परिवार में कितने सदस्य हैं। आपके कितने दोस्त या दुश्मन हैं या आप उस व्यक्ति के पास पहुंचने से पहले कितने लोगों से उस दिन मिले, उनसे आपकी क्या बात हुई?


इन सभी प्रश्नों के उत्तर उसने आपसे मिलते ही तुरंत बता दिए हो। उस व्यक्ति ने आपका भविष्य में क्या होगा? यह भी बता दिया हो।

ऐसे में कोई भी सोचेगा कि वह व्यक्ति चमत्कारी है परंतु यह कोई चमत्कार नहीं है। दरअसल यह कार्य तंत्र साधना का कमाल है। यह एक तंत्र विद्या है जिसे कर्ण पिशाचनी साधना कहा जाता है। इस विद्या को पिशाच विद्या अर्थात नेक्रेमेंसी भी कहा जाता है। जिसमें पराशक्तियों को बुलाकर बात की जाती हैं।

कर्ण पिशाचनी सिद्धि के बाद मरे हुए पूर्वजों की आत्माओं को बुलाकर बात की जा सकती है। आत्मा किसी भी व्यक्ति के सबंध में और उसके भविष्य के बारे में बता सकती है। इस साधना में तंत्र शास्त्र की वाममार्गी शक्तियों की उपासना की जाती है। इन्हें प्रसन्न किया जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं