For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

कहीं आपके मन में भी इन 5 गलतफहमियों ने घर तो नहीं बना लिया है - Galatfahmiyan

कहीं आपके मन में भी इन 5 गलतफहमियों ने घर तो नहीं बना लिया है - Galatfahmiyan

जमाना चाहे जितनी मर्जी तरक्की कर लें लेकिन जब बात शारीरिक संबंधों की आती है तो लोग चुप्पी साध कर बैठ जाते है। इस विषय पर कोई बी खुलकर बात करना पसंद नहीं करता है। शायद यहीं वजह है कि लोग सैक्स को लेकर ज्यादा जागरूक नहीं हो पाते और कई तरह की गलत फहमियों का शिकार हो जाते है।

 

खासकर भारतीयों में यह समस्या आम देखने को मिलती है। भारतीय लड़के सैक्स के समय चरम सुख प्राप्त करने के लिए कई गलतियां कर बैठते हैं, जो उन्हें कई बीमारियों का शिकार भी बना देती है। आज हम आपको कुछ ऐसी गलतियों के बारे में बताएंगे...
  1. ट्रेनो और रेलवे लाइनों के इर्द-गिर्द अक्सर विज्ञापन लगे होते है, जिनमें बचपन की गलतियां दूर करने के दावे किए जाते है। इसी चक्कर में लोग अपना इलाज करवाना शुरू कर देते है। मेडिकल साइंस के अनुसार, हस्तमैथुन से शरीर को कोई नुकसान नहीं पहुंचता।
  2. कुछ लड़के अपनी सैक्स पावर बढाने के लिए विज्ञापनों में बताए गए तेल का इस्तेमाल करते है। वह सोचते है कि इससे सैक्स का आनंद लिया जा सकता है लेकिन यह केवल भ्रम होता है।
  3. मार्कीटों में मिलने वाली ऐसी टॉनिक्स, जो सैक्स पावर को बढ़ाने का दावा करते है। यह जल्द ही लड़कों का ध्यान अपनी और आकर्षित कर लेते है। असल में इसका कोई फायदा नहीं है।
  4. कुछ लड़के अश्लील मैगजीन पढ़ने बैठ जाते है। वह सोचते है कि शायद इससे कामोत्तेजना में बढ़ जाती है। दरअसल इस तरह की किताबें वासना भड़काती हैं, जो आगे के लिए नकसानदेह होती है।
  5. कुछ लोग का मानना है कि शराब बीकर सैक्स का अानंद ज्यादा आता है लेकिन यह बिल्कुल गलत धारणा है क्योंकि शराब क्षणिक उत्तेजना तो पैदा करती है, लेकिन लंबे समय तक ऐसा करने से सैक्स की क्षमता बढ़ने के बदले धीरे-धीरे कम होने लगती है।

कोई टिप्पणी नहीं