For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

इन चार स्त्रियों का कभी भूलकर भी अपमान ना करें - Do not insult of these 4 women

इन चार स्त्रियों का कभी भूलकर भी अपमान ना करें - Do not insult of these 4 women

भारत में स्त्री को देवी का स्वरूप माना जाता है। यहां नारी को लक्ष्मी, सरस्वती और दुर्गा के रूप में पूजा जाता है। अथर्ववेद में भी कहा गया है कि, जहाँ स्त्रियों का आदर किया जाता है, वहाँ देवता निवास करते हैं। जहाँ इनका अनादर होता है, वहाँ सारे काम निष्फल होते हैं। बावजूद इसके समाज में महिलाओं की स्थिति ठीक नहीं है।



वैसे तो हर नारी सम्मान की पात्र है। मगर तुलसीदास द्वारा रचित राम चरित मानस में चार स्त्रियों के सम्मान की बात को विशेष तौर पर उल्लेखित किया गया है। इसके मुताबिक जो भी व्यक्ति इन चार महिलाओं का अपमान करता है। इनके साथ दुराचार करता है। उसका जीवन हमेशा ही दरिद्रता और आर्थिक तंगी से गुजरता है।
  1. घर की बहु - घर की बहु को घर की लक्ष्मी माना जाता है। कहा जाता है कि बहु के प्रवेश के बाद घर में हर काम शुभ होता है। बहु अपना घर छोड़कर पराए घर आती है। ऐसे में उसके साथ आदर का भाव रखा जाना चाहिए। ऐसा पुरुष जो घर की बहु का सम्मान नहीं करता। और तो और उसके लिए मन में बुरे विचार रखता है। वो कभी भी कहीं भी खुश नहीं रहता। जीवनभर परेशानियां उसके साथ जुड़ी रहती हैं।
  2. बड़े भाई की पत्नी - बड़े भाई की पत्नी को शास्त्रों में माँ समान माना गया है। वहीं छोटे भाई की पत्नी को बेटी समान। इन दोनों का सम्मान करना हर व्यक्ति का कर्त्तव्य होता है। यदि कोई ऐसा नहीं करता है तो फिर नतीजा बुरा होना ही है।आपको बता दें कि जो भी पुरुष ऐसी महिलाओं के प्रति बुरी सोच रखते हैं, वो जानवरों के समान है। ऐसे कामों से केवल उनके पाप ही बढ़ते हैं।
  3. बहन - भाई का कर्तव्य होता है बहन की रक्षा करना। उसकी खुशियों का ख्याल रखना। ऐसे में यदि कोई भाई ऐसा भी नहीं कर पाता है तो यह बात बेहद चिंताजनक है। कारण कि इसके परिणाम बहुत बुरे साबित हो सकते हैं। ऐसा व्यक्ति जो अपनी बहन के साथ दुर्व्यवहार करता है। उसकी भावनाओं का सम्मान नहीं करता है। ऐसे व्यक्ति को तो भगवान भी माफ नहीं करते।
  4. घर की बेटी - घर की बेटी सम्मान और प्यार की हकदार होती है। ऐसा नहीं है कि व्यक्ति को सिर्फ खुद की बेटी का ही सम्मान करना चाहिए बल्कि भाई, बहन या घर की कोई भी बेटी का सम्मान व्यक्ति को करना ही चाहिए। ऐसा व्यक्ति जो घर की बेटी पर बुरी नजर रखता है। उसके साथ मारपीट करता है। वह कभी भी खुश नहीं रहता है। ऐसे व्यक्ति से खुशियां और लक्ष्मी दोनों ही दूर भागती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं