For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

संबंध बनाने के बाद बेड पर लेटे रहने से हो सकता है यह नुकशान - Frustration after relationship

संबंध बनाने के बाद बेड पर लेटे रहने से हो सकता है यह नुकशान - Frustration after relationship..

कई वर्षों  से यह माना जाता रहा है कि शारीरिक संबंध बनाने के बाद बेड पर लेटे रहने वाली महिलाओं की प्रेग्नेंट होने की चांस बढ़ जाती है। लेकिन हाल में एक अध्ययन ने इस थिअरी पर अलग तथ्य रखे हैं। अध्ययन के शोधकर्ताओं का कहना है कि शारीरिक संबंधो के बाद बेड रेस्ट पर रहने से प्रेग्नेंट होने वाली बात गलत है। शोधकर्ताओं ने 500 दंपतियों पर यह अध्ययन किया था जिसके तथ्यों को फिनलैंड में आयोजित एक फर्टिलिटी कॉन्फ्रेंस में पेश किया गया था।



अध्ययन में शामिल आधी महिलाओं को कृत्रिम वीर्यारोपण के बाद उठे घुटनों के साथ 15 मिनट के लिए बेड पर लेटे रहने को कहा गया। बाकी महिलाएं तुरंत बेड से हट गईं। शोधकर्ताओं ने पाया कि जिन महिलाओं को बेड पर ही रहने को कहा गया था, उनमें प्रेग्नेंट होने के कोई लक्षण ही नही दिखे। इस लिहाज से इंटरकोर्स के बाद बेड पर लेटे रहने की वजह से प्रेंग्नेंट होने वाली बात गलत है।

इन तथ्यों पर प्रतिक्रिया देते हुए शफील्ड यूनिवर्सिटी के प्रफेसर ऐलन पीसी ने कहा कि उन्हें इन तथ्यों पर कोई हैरानी नहीं है क्योंकि स्पर्म सेल्स को गर्भाशय नली तक पहुंचने में केवल पांच मिनट का समय लगता है जिसके बाद वे कई दिनों तक गर्भाशय में जीवित रह सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘सांस के सामान्य होने (शारीरिक संबंध के बाद) और पेशाब करने के लिए बेड से उठने तक यह (स्पर्म) अंडे को फर्टिलाइज करने के लिए पहुंच जाता है।’

कोई टिप्पणी नहीं