Header Ads

Breaking News

Ads

जानिए रक्षा-बंधन में क्यों बांधा जाता है रक्षा-सूत्र? - Raksha Bandhan

जानिए रक्षा-बंधन में क्यों बांधा जाता है रक्षा-सूत्र? - Raksha Bandhan

रक्षा बन्धन के बारें में आप सभी लोग जानते है किन्तु मैं आप लोगों को आज कुछ विशेष रोचक जानकारी से अवगत कराने जा रहा हूं।

 

रक्षा सूत्र क्यों बांधा जाता है ?

कलावा या मोली बांधने की प्रथा तब से चली आ रही है, जब से दानवीर राजा बलि की वीरता की रक्षा के लिए भगवान वामन ने उनकी कलाई पर रक्षा सूत्र बॉधा था। शास्त्रों में इस श्लोक का उल्लेख मिलता भी मिलता है।

येन बद्धो बली राजा दानवेन्द्रो महाबलः। तेन त्वामानुवध्नामि रक्षे मा चल मा चल।।
Raksha Bandhan
ब्रहमा, विष्णु, महेश रक्षासूत्र बांधने से त्रिदेव ब्रहमा, विष्णु, महेश व तीनों देवियां लक्ष्मी, सरस्वती व दुर्गा की कृपा बनी रहती है।
शरीर की संरचना का प्रमुख नियन्त्रण हाथ की कलाई में होता है। इसलिए कलाई में रक्षा सूत्र बॉधने से आत्म-विश्वास आता है एंव तीनों दोष वात, पित्त व कफ में सन्तुलन बना रहता है, जिससे स्वास्थ्य उत्तम रहता है।

कलावा या मोली बांधने से ब्लडप्रेशर व तनाव का रोग कम होता है।

रक्षासूत्र बांधकर जाने से हर क्षेत्र में विजय प्राप्त होती है।