Header Ads

Breaking News

Ads

कुछ महिलाएं रजामंदी से बनवाती है संबंध और बाद में बताती हैं रेप - Relationship or rape

कुछ महिलाएं रजामंदी से बनवाती है संबंध और बाद में बताती हैं रेप - Relationship or rape

दिल्ली हाई कोर्ट ने गुरुवार को रेप से घरेलू हिंसा और रेप से जुड़े एक मामले पर कहा कि जुड़ी कई बार किसी विवाद या ब्रेकअप के बाद महिलाएं आपसी सहमति से बनाए गए शारीरिक संबंध को रेप की घटना करार दे देती हैं। अदालत ने महिला के पति पर पूर्व में किए गए रेप केस को फिर से चलाने जाने की मांग पर ये टिप्पणी की।

 

29 साल की महिला ने हाल ही में अपने पति के खिलाफ घरेलू हिंसा का एक मामला दायर किया था। इसके साथ-साथ महिला ने अपने पति के खिलाफ शादी से पहले किए गए रेप केस में भी फिर से मुकदमा चलाए जाने की मांग की थी। रेप का मामला महिला ने दो साल पहले किया था लेकिन फिर दोनों ने शादी कर ली और महिला ने पति के खिलाफ कोर्ट में कोई बयान नहीं दिया, जिसके बाद अदालत में मामला खारिज हो गया। अब पत्नी ने दोबारा उस केस को चलाने के लिए हाइकोर्ट से अपील की।

महिला की अपील को खारिज करते हुए जस्टिस प्रतिभा रानी ने कहा कि अदालत ने कई मामलों में कहा है कि दो लोग अपनी मर्जी से शारीरिक संबंध बनाते हैं और जब किसी वजह से दोनों अलग हो जाते हैं तो तब महिलाएं बदले के लिए रेप का आरोप लगाती हैं।