रूस की इस नई मिसाइल ने अमेरिका के निकाल दिए पसीने - Russia's new missile

रूस की इस नई मिसाइल ने अमेरिका के निकाल दिए पसीने - Russia's new missile

अमेरिका के माथे पर पसीना आ गया है। रूस की नई हाइपरसॉनिक एंटी शिप मिसाइल का परीक्षण देखकर कर दिया है। यह मिसाइल किसी भी लक्ष्य को तबाह कर सकती है। और तो और इसे रोकने की कोशिश करना भी उतना ही खतरनाक होगा क्योकि इसकी रफ़्तार 7400 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार है। जितना मिसाइल के लक्ष्य से टकराने के बाद।



इसका सीधा मतलब ये है रूस की इस नई मिसाइल को लेकर न सिर्फ अमेरिका बल्कि दुनिया के कई बड़े देश हैरान और परेशान हैं। 'जिरकोन' नाम की इस हाइपरसोनिक एंटी-शिप मिसाइल की सबसे बड़ी खासियत इसको एक बार लॉन्‍च कर न रोक पाना है। यदि ऐसा करने की कोशिश भी की गई तो यह उतनी ही तबाही मचा सकती है। रूस के रक्षा मंत्रालय ने मंगलवार को इस मिसाइल की तस्वीर जारी की है। इस मिसाइल की सबसे बड़ी ताकत इसकी रफ्तार ही है।

यही कारण है कि अमेरिका भी इस मिसाइल के सामने आने के बाद टेंशन में है। इसे 2022 तक रूस की सेना में शामिल किया जाएगा। इस मिसाइल में स्क्रैमजेट इंजन का उपयोग किया गया है जो कि हवा से ऑक्सीजन का प्रयोग करता है। जिरकोन के साथ ही लॉन्च होने वाला पहला जहाज किरोव-वर्ग परमाणु शक्ति वाले युद्ध क्रूजरों में से एक होने की संभावना है।

इनमें से दो अब भी रूसी नौसेना के साथ हैं। इस मिसाइल के बारे में जानकारी देते हुए कहा गया है कि अगर एक बार लॉन्च करने के बाद इस मिसाइल को रोकने की कोशिश की गई तो इसका मलबा भी निशाने को काफी हद तक नुकसान पहुंचा देगा। इस मिसाइल की क्षमता लगभग 400 किमी तक बताई जा रही है।

एक टिप्पणी भेजें