For Smartphone and Android
Click here to download

Breaking News

शारीरिक संबंध कब बनाने चाहिए जिससे गर्भधारण ना हो सके -Safe Physical relationship time

शारीरिक संबंध कब बनाने चाहिए जिससे गर्भधारण ना हो सके -Safe Physical relationship time..

‘सेफ पिरीअड’ का मतलब यह होता है किं जब पुरूष और स्त्री शारीरिक संबंधो का आनंद उठाते हैं उस समय महिला के गर्भवती होने की संभावना कम होती है। वैज्ञानिक रूप से कहे तो यह सुरक्षित अवधि मासिक धर्मी समय (पिरीअड) के पहले से सांतवे दिन तक होता है और 19वें दिन से अगले चक्र के शुरू होने तक रहता है।



सामान्यतः महिलाओं का मासिक धर्म चक्र 28 दिनों का होता है। 8 से लेकर 19 दिनों के बीच यदि असुरक्षित संभोग हुआ तो गर्भधारण करने की पूरी संभावना होती है क्योंकि उस अवधि में प्रजनन क्षमता बहुत क्रियाशील होती है।

लेकिन ‘सुरक्षित अवधि’ के दौरान असुरक्षित संभोग करने से गर्भधारण करने की संभावना तब भी बनी रहती है। बहुत महिलाओं का अनियमित मासिक धर्म चक्र होता है ।

महिलाओं के शरीर विज्ञान के अनुसार चक्र का समय अलग-अलग होता है। इसलिए ‘सुरक्षित अवधि’ की बात तो सच है मगर इसके बारे में सही ज्ञान शायद ही किसी को है। इसलिए अनचाहे गर्भधारण से बचने के लिए कॉन्डोम या गर्भनिरोधक दवाओं का इस्तेमाल करना ही सुरक्षित विकल्प होता है।

कोई टिप्पणी नहीं