Header Ads

Breaking News

Ads

रात को इन दिशाओं में सोने से होती हैं ये दिक्कतें - Sleeping in these directions

रात को इन दिशाओं में सोने से होती हैं ये दिक्कतें - Sleeping in these directions

वास्तु के अनुसार कहा जाता है कि घर का मास्टर बेडरुम हमेशा साउथ-वेस्ट कार्नर में होना चाहिए। कहा जाता है कि ये कमरा घर के दूसरों से हमेशा बड़ा होना चाहिए। घर के इस कमरे में परिवार के मुखिया को ही सोना चाहिए। लेकिन अकसर हम सोने की दिशा का ध्यान नहीं रखते हैं।



वास्तु के अनुसार सोते समय पैर और सिर का सही दिशा में होना जरूरी है। वास्तु के अनुसार जाता है कि सही दिशा में न सोने से कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

1. वास्तु के अनुसार कहा जाता है कि अगर सोते समय सिर पूर्व दिशा की तरफ होता है तो यह अच्छा रहता है इससे ज्ञान में वृद्धि होती है और सेहत में सुदार होता है और टेंशन कम होती है।

2. इस की जगह अगर सोते समय सिर पश्चिम दिशा में हो तो इससे तबियत खराब होने लगती है।  अगर सिर को उत्तर दिशा में किया जाए तो बुरे सपने आते हैं और नींद भी सही से नहीं आती है।

3. अगर दक्षिण दिशा की तरफ पैर करके सोया जाए तो ऐसे इंसान के दिमाग में बुरे विचार आएंगे और वह अच्छी नींद भी नहीं ले पाएगा।

4. अगर पैर पूर्व दिशा में होंगे तो व्यक्ति दिमागी रुप से बीमार रहेगा। इसके अलावा उसे छाती में भारीपन की भी शिकायत रहेगी।

5. जब तक आप उत्तरी गोलार्ध में हैं, यही सही है – उत्तर के अलावा किसी भी दिशा में सिर करके सोया जा सकता है। दक्षिणी गोलार्ध में, दक्षिण की ओर सिर करके न सोए।