बात करे जो भेदभाव की, उसको सबक सिखाना है

स्वतंत्रता दिवस हम सभी भाई-बहनों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिन है जिसे हम कभी नहीं भुला सकते हैं हमें अपने देश और देशवासियों पर गर्व होना चाहिए जो इस देश को ऊंचाइयों तक ले जाने का निश्चय बनाए हुए हैं।



आइये कुछ पंक्तियाँ इस बारे में पढ़ते है:-

स्वतंत्रता दिवस का पावन अवसर है,

विजयी-विश्व का गान अमर है।

देश-हित सबसे पहले है,

बाकि सबका राग अलग है।

स्वतंत्रता दिवस का............................।

आजादी के पावन अवसर पर,

लाल किले पर तिरंगा फहराना है।

श्रद्धांजलि अर्पण कर अमर ज्योति पर,

देश के शहीदों को नमन करना है।

स्वतंत्रता दिवस का............................।

देश के उज्ज्वल भविष्य की खातिर,

अब बस आगे बढ़ना है।

पूरे विश्व में भारत की शक्ति का,

नया परचम फहराना है।

स्वतंत्रता दिवस का............................।

अपने स्वार्थ को पीछे छोड़ककर,

राष्ट्रहित के लिए लड़ना है।

बात करे जो भेदभाव की,

उसको सबक सिखाना है।

स्वतंत्रता दिवस का............................।

स्वतंत्रता दिवस का पावन अवसर है,

विजयी विश्व का गान अमर है।

देश हित सबसे पहले है,

बाकी सबका राग अलग है।।

स्वतंत्रता दिवस का............................।

 जय हिन्द जय भारत।

...वन्दना शर्मा।

एक टिप्पणी भेजें