ये है 'बलात्कारी बाबा' राम रहीम का वो सपना जो जेल जाने के कारण अधुरा रह गया

ये है 'बलात्कारी बाबा' राम रहीम का वो सपना जो जेल जाने के कारण अधुरा रह गया..

धर्म की दुकान चलाने वाले राम रहीम ने जेल जाने से पहले अपने हजारों ख्वाब पूरे किए लेकिन उसका एक ख्वाब अधूरा रह गया.



राम रहीम का वो अधूरा ख्वाब है जल महल. जल महल पर पिछले छह महीने से काम चल रहा था. इसका पचास फीसदी से ज्यादा काम पूरा भी हो चुका था लेकिन इसी बीच राम रहीम जेल चला गया. गुरमीत राम रहीम का ये ड्रीम प्रोजेक्ट पूरी तरह से कारोबार से जुड़ा हुआ था.

राम रहीम ने डेरा सच्चा सौदा के नाम पर अंध भक्तों को धन धन सतगुरु का जाप कराया और अपना ध्यान सिर्फ धन कमाने पर लगाए रखा. इस कड़ी में उसने एमएसजी रिसॉर्ट और एसएमजी होटल का कारोबार जमा लिया. इसके बाद राम रहीम का अगला ड्रीम प्रोजेक्ट जल महल का आया.

जल महल के लिए कई एकड़ में खुदाई करवाई गई. पर्यटन और कमाई के लिहाज से इस जल महल को कशिश रेस्टोरेंट से जोड़ा जाना था. इसके लिए बाकायदा नहर खोदी गई. नहर में एक जहाजनुमा इमारत तैयार की गई, जिसमें छह कमरे बनाए गए हैं. इन कमरों की खासियत ये है कि ये सब पानी में हैं.

जल महल में कई बोट लगाए जाने का भी फैसला हो चुका था. नहर में कशिश रेस्टोरेंट से जलमहल तक करीबन एक किलोमीटर तक बोट से सैर कराने और पैसे कमाने की योजना थी. बलात्कारी बाबा का ये ख्वाब हकीकत की शक्ल लेने से बस कुछ कदम ही दूर था लेकिन अदालत ने बरसों पुराने उसके कुकर्मों का हिसाब कर दिया. मगर इससे पहले राम रहीम ने अपनी अय्याशियों को अंजाम देने के लिए राजे-रजवाड़ों जैसे रंगमहल और शीशमहल का जमकर लुत्फ उठाया.

एक टिप्पणी भेजें