बिना मोज़े जूते पहनने से बढ़ सकता है फंगल इंफेक्शन का खतरा - No socks inside shoes

बिना मोज़े जूते पहनने से बढ़ सकता है फंगल इंफेक्शन का खतरा - No socks inside shoes

आपने कई बार देखा होगा कि बहुत से युवा जूतों के अंदर मोज़े नहीं पहनते है। यूं तो ये एक कूल ट्रेंड है लेकिन बात अगर सेहत की हो तो ये ट्रेंड हानिकारक है कॉलेज ऑफ पोडियाट्री के अनुसार इस नए फैशन ट्रेंड से पुरूषों में फंगल इंफेक्शन का खतरा बढ़ गया है। पैरों का इलाज करने वाले विशेषज्ञ एम्मा स्टीफन्सन का कहना है कि 18-25 साल के पुरूषों में बिना मोजे और खराब फिटिंग के जूते पहनने की वजह से कई बीमारियों का खतरा बढ़ गया है।

 

एमा स्टीफन्सन ने एक इंटरव्यू में बताया आम तौर पर एक दिन में पैर से 300 मिलीलीटर पसीना निकलता है। बहुत ज्यादा नमी और गर्मी की वजह से किसी के पैर में एथलीट के पैर जैसे फंगल इंफेक्शन हो सकते हैं।

एम्मा के मुताबिक पैर में ज्यादा पसीने का परिणाम बहुत बुरा हो सकता है। एम्मा कहती हैं मैंने जो सबसे बुरी घटना देखी है वह एक 19 साल के आदमी के साथ हुई जो कार धोने का काम करता था। उसके पैर हमेशा पसीने से सने रहते थे।

अगर आप नंगे पैर बिना मौजे के जूते के साथ स्टाइल में कहीं जाना चाहते हैं तो इन तीनों बातों का ख्याल जरूर रखें। सब कुछ नियंत्रण में हो। कोशिश करें कि कम से कम समय के लिए आप बिना मोजे के जूते पहने। जूता पहनने से पहले अपने पैर के तलवे पर एंटीपर्सिपरेंट स्प्रे करें। इसके अलावा अगर कभी भी आपके पैरों में दर्द की शिकायत हो तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लें।